ओपीडी छोड़कर आवास पर देखे जा रहे मरीज

ओपीडी छोड़कर आवास पर देखे जा रहे मरीजओपीडी छोड़कर आवास पर देखे जा रहे मरीज।

अर्जुन श्रीवास्तव/राजबहादुर सिंह

शाहजहांपुर। जिला अस्पताल में शायद ही कोई चिकित्सक को जो अपने आवास पर मरीजों को न देखता है परन्तु जो ओपीडी के समय रंगेहाथों पकड़ा जाए वहीं दोषी और वेतन के साथ एनपीए भी ले रहे हैं।

कई शिकायतों को लेकर जिला अस्पताल में नगर मजिस्ट्रेट बीएस दुबे के निरीक्षण के दौरान अचानक जिला अस्पताल परिसर में स्थित आवासीय कालोनी में डॉ. अनिल राज, एमबीबीएस अपने आवास पर करीब एक बजकर 25 मिनट पर मरीज देखते धरे गए।

वहां पर नगर मजिस्ट्रेट ने खुद देखा कि डॉ. अनिल राज अपने आवास में बैठकर ड्यूटी के समय मरीजों को देख रहे हैं। पूछने पर डॉ. अनिल राज बताते हैं, "जो मरीज आ जाते हैं उन्हीं को देखते हैं बाकी नहीं।" दरअसल, अस्पताल में मौजूद अन्य मरीजों ने यह भी कहा, "आप अभी इसी वक्त उनके आवास को चेक कर सकते हैं।

इस पर वह टीम के लोगों के साथ डॉक्टर राज के आवास पर पहुंचे तो वह आवास के अंदर मरीजों से घिरे हुए थे। मेज पर दवाइयों का गठ्ठर लगा था। कई मरीज आवास में लेटे ग्लूकोज की बोतल चढ़वा रहे थे। यह सब देखकर वह भी हैरत में पड़ गए। उन्होंने अपने अधीनस्थ से डॉक्टर अनिल राज के आवास पर चल रही क्लीनिक की वीडियो बनवाई और कहा कि इस मामले की शिकायत डीएम से लेकर शासन स्तर तक की जाएगी।

Tags:    Shahjahanpur 
Share it
Top