नकदीरहित अर्थव्यवस्था का प्रधानमंत्री का विचार यथार्थ से परे: उमर 

नकदीरहित अर्थव्यवस्था का प्रधानमंत्री का विचार यथार्थ से परे: उमर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला।

श्रीनगर (भाषा)। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मन की बात' रेडियो कार्यक्रम में दिये गये नकदीरहित अर्थव्यवस्था के विचार को ‘अवास्तविक' करार दिया और कहा कि राज्य में इंटरनेट कनेक्टिविटी भरोसेमंद नहीं है।

उमर ने ट्वीट किया, ‘‘मैं कैशलैस अर्थव्यवस्था की ओर बढ़ना पसंद करुंगा, लेकिन जम्मू कश्मीर में कनेक्टिविटी की विश्वसनीयता और बिक्री केंद्र (पीओएस) की उपलब्धता नहीं होने से मुझे डर है कि मैं नहीं कर सकूंगा।'' नेशनल कांफ्रेंस के कार्यवाहक अध्यक्ष उमर ने कहा कि राज्य के सुदूर इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए खासतौर पर यह विचार यथार्थ से परे है।

उन्होंने कहा, ‘‘और मैं तो श्रीनगर में रहता हूं। गुरेज, करनाह, केरान और दूसरे सुदूर इलाकों में नकदी की व्यवस्था समाप्त करने के बारे में सोचकर देखिए। पूरी तरह यथार्थ से परे विचार है।''

Share it
Top