संसदीय समिति की बैठक में आरबीआई गर्वनर बताएंगे नोटबंदी का क्या हुआ असर

संसदीय समिति की बैठक में आरबीआई गर्वनर बताएंगे नोटबंदी का क्या हुआ असरभारतीय रिजर्व बैंक

नई दिल्ली (भाषा)। नोटबंदी को लेकर देशभर में कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदर्शन कर आरबीआई का घेराव कर रहे हैं। इसी बीच दिल्ली में वित्त संबंधी संसदीय स्थाई समिति शुरु हो गई है। इस बैठक में भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल अपनी बात रख सकते हैं।

कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली समिति के समक्ष आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास, बैंकिंग सचिव अंजुल छिब दुग्गल और राजस्व सचिव हसमुख अधिया समेत शीर्ष अधिकारी और आईसीआईसीआई बैंक की प्रमुख चंदा कोचर एवं पंजाब नेशनल बैंक की प्रमुख उषा अनंतसुब्रमण्यम जैसे बैंकों के बडे पदाधिकारी भी पेश हो सकते हैं।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समिति के एक सदस्य हैं। पटेल नोटबंदी और अर्थव्यवस्था पर इसके प्रभाव के बारे में संसदीय समिति को जानकारी देंगे। वह 500 और 1000 रपये के पुराने नोटों के बंद होने के बाद नकदी के संकट से निपटने के लिए रिजर्व बैंक द्वारा उठाये गये कदमों की भी जानकारी देंगे। आरबीआई गवर्नर 20 जनवरी को इसी मुद्दे पर संसद की लोक लेखा समिति के समक्ष भी पेश हो सकते हैं।

Share it
Top