कार्ड डेटा सेंध मामले में सरकार का त्वरित कार्रवाई का वादा

कार्ड डेटा सेंध मामले में सरकार का त्वरित कार्रवाई का वादाप्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली (भाषा)। सरकार ने शुक्रवार को डेबिट कार्ड धोखाधडी में कदम उठाते हुए संबंधित बैंकों और रिजर्व बैंक से सुरक्षा में सेंध की प्रकृति पर रिपोर्ट देने को कहा है। इस धोखाधड़ी से 32.5 लाख कार्ड प्रभावित हुए हैं। इसके साथ ही सरकार ने उपभोक्ताओं को भरोसा दिलाया कि इस मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी और उनके हितोँ को कोई नुकसान नहीं पहुंचाने दिया जाएगा।

641 ग्राहकों को 1.3 करोड़ रुपये का चूना लगाया

वित्त मंत्री अरण जेटली ने कहा, ‘‘मैंने डेबिट कार्ड मामले में रिपोर्ट तलब की है। हमारा उद्देश्य इस नुकसान पर नियंत्रण पाना है।'' नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन आफ इंडिया के अनुसार चोरी के डेबिट कार्ड डेटा के जरिये 19 बैकों के 641 ग्राहकों को 1.3 करोड़ रुपये का चूना लगाया गया है। सरकार ने रिजर्व बैंक के साथ प्रभावित बैंकों से डेटा सेंधमारी का ब्योरा उपलब्ध कराने को कहा है। साथ ही उनसे साइबर अपराधों से निपटने की तैयारियों के बारे भी पूछा गया है। आर्थिक मामलों के विभाग के सचिव शक्तिकान्त दास ने कहा कि सभी पहलुओं पर रिपोर्ट मांगी गई है।

Share it
Share it
Share it
Top