ट्रम्प के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा नहीं लेंगी भारतीय-अमेरिकी सांसद 

ट्रम्प के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा नहीं लेंगी भारतीय-अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल का कहना है कि अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति की ‘भाषा और कामकाज’ अमेरिकी लोकतंत्र और उसके इतिहास की छवि खराब करते हैं।

वाशिंगटन (भाषा)। सिएडल से सांसद चुनी गयीं भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक प्रमिला जयपाल ने घोषणा किया है कि वह डोनाल्ड ट्रम्प के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा नहीं लेंगी। उनका कहना है कि अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति की ‘भाषा और कामकाज' अमेरिकी लोकतंत्र और उसके इतिहास की छवि खराब करते हैं।

जयपाल ने कल एक बयान में कहा, ‘‘मैंने यह फैसला हल्के में नहीं लिया है।'' अभी तक करीब दो दर्जन सांसदों ने ट्रम्प के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा नहीं लेने की घोषणा की है।

मैंने आशा किया था कि चुनाव के बाद निर्वाचित राष्ट्रपति अपने चुनावी ढर्रे से बाहर निकलेंगे और अमेरिका के लोगों को एकजुट करने की दिशा में काम करेंगे। लेकिन, ऐसा करने के बजाए, हमने देखा कि निर्वाचित राष्ट्रपति उस भाषा का प्रयोग करते रहे और ऐसे काम करते रहते जिसने हमारे इतिहास और हमारे विभिन्न हीरो को बदनाम किया और हमारे लोकतंत्र की छवि खराब की।
प्रमिला जयपाल, सांसद, सिएडल

इस महीने के आरंभ में संसद के संयुक्त सत्र के दौरान ट्रम्प के जीत की पुष्टि का विरोध करने वाली एकमात्र सांसद जयपाल ने आरोप लगाया कि कैबिनेट में उनके द्वारा की जा रही नियुक्तियां राष्ट्रपति कार्यकाल के दौरान आने वाली गंभीर खतरों की ओर इशारा करते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘स्टीव बेनन, जेफ सेशंस और एन्ड्र्यू पुदजर जैसे लोगों की नियुक्ति ही हमारे देश के मूल ताना-बाना और इन लोगों के नेतृत्व में दिए जाने वाले संस्थानों के लिए खतरा है। ये लोग मुस्लिम रजिस्टरी बनाने, डीएसीए को खत्म करने, बिना दस्तावेज वाले लाखों आव्रजकों को वापस उनके देश भेजने, गर्भपात के लिए महिलाओं को सजा देने के अपने वादों पर कायम हैं और यह हमारे 7वें जिले के नैतिक मूल्यों के मुंह पर तमाचा है।''

डोनाल्ड ट्रम्प के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए वाशिंगटन डीसी में रहने के बजाए जयपाल अपने संसदीय क्षेत्र में लोगों के साथ आव्रजन विषय पर एक संगोष्ठी में हिसा लेंगी।

Share it
Top