अंडरग्राउंड मेट्रो के लिए टनल लेयर बनना शुरू

अंडरग्राउंड मेट्रो के लिए टनल लेयर बनना शुरूअंडरग्राउंड मेट्रो के लिए टनल लेयर बनाने की तैयारी करते अधिकारी।

लखनऊ। लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना के भूमिगत खंड (चारबाग से हजरतगंज के बीच) के लिए कंक्रीट पिलर की कास्टिंग का काम सोमवार से वृन्दावन योजना सेक्टर 19 में स्थित कास्टिंग यार्ड में शुरू हुआ। इस खंड का उपयोग भूमिगत सुरंग के भीतर परत बनाने के लिए किया जाएगा। इस कार्य के तहत निर्माण टनल बोरिंग मशीन करेगी। इस मौके पर कास्टिंग यार्ड में पूजन हवन के बाद काम का आगाज किया गया। यह जानकारी दलजीत सिंह, निदेशक (कार्य एंड इंफ्रास्ट्रक्चर) ने दी।

प्रतिदिन 60 खंडों की आवश्यकता

उन्होंने बताया कि खंडों की सप्लाई के लिए इस्तेमाल किए गए मोल्ड (नया सांचा) विशेष तौर पर कोरिया से आयात किया गया है। निर्माण के चरणों के दौरान औसतन दैनिक 60 खंडों की आवश्यकता होगी, जबकि यह 72 खंडों का उत्पादन करने में सक्षम है। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान खंड के पर्याप्त भंडार को दो स्टैकिंग यार्ड में बनाए रखा जाएगा, जो इसी कास्टिंग यार्ड के भीतर स्थित है।

कई सुविधाओं से लैस कास्टिंग यार्ड

कास्टिंग यार्ड पूर्ण रूप से कई सुविधाओं से लैस एवं सुसज्जित है, जिसमें आटोमैटिक रिइनफोर्समेन्ट कटिंग एण्ड वेंडिंग मशीन, आरओ प्लांट, स्वचालित आटोमैटिक बैचिंग प्लांट, पूरी तरह से सुसज्जित क्वालिटी कंटोल लैब 24 घंटे एम्बुलेंस की सुविधा के साथ हेल्थ यूनिट टेनिंग हॉल आदि हैं। दलजीत सिंह ने बताया कि चारबाग और हजरतगंज के बीच खंड की कास्टिंग का प्रारम्भ एक कठिन गतिविधि है। उन्होंने यह भी बताया कि विस्तृत निरीक्षण और परीक्षण के बाद एक टनल बोरिंग मशीन दिल्ली से डिस्पैच कर दी गई है। यह टनल बोरिंग मशीन इस माह के आखिर में लखनऊ पहुँच जाएगी। इसी सप्ताह दिल्ली में दूसरी टनल बोरिंग मशीन के विस्तृत निरीक्षण और परीक्षण की योजना है।

Share it
Share it
Share it
Top