70 प्रतिशत कर्मचारी अपने वेतन से खुश नहीं

70 प्रतिशत कर्मचारी अपने वेतन से खुश नहींप्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली (भाषा)। अपने वेतन से खुश न होना ज्यादातर ननौकरीपेशा लोगों की समस्या होती है लेकिन हाल ही में हुए एक सर्वेक्षण ने इस बात को साबित भी कर दिया है। नौकरीपेशा लोगों के बीच किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार 70 प्रतिशत लोगों का मानना है कि उनकी आमदनी बाजार मानकों के अनुरूप नहीं है जबकि 30 प्रतिशत लोगों का मत है कि उन्हें उनके दायित्व के हिसाब से कम वेतन मिलता है।

ऑनलाइन नौकरी एवं करियर समाधान उपलब्ध कराने वाली विज्डमजॉब्स डॉट कॉम के ‘वेतन संरचना पर कर्मचारियों की संतुष्टि' सर्वेक्षण में यह बातें सामने आई हैं। इसमें सूचना प्रौद्योगिकी, दूरसंचार, खुदरा, शिक्षा, मीडिया एवं एंटरटेनमेंट, स्वास्थ्य और लॉजिस्टिक जैसे कुल दस क्षेत्रों के कर्मचारियों से सूचनाएं जुटाई गईं। यह सर्वेक्षण हैदराबाद, मुंबई, दिल्ली, चेन्नई, बेंगलुरु और पुणे शहरों में किया गया।

सर्वेक्षण के अनुसार, ‘‘80 प्रतिशत उत्तरदाताओं के लिए किसी कंपनी या नियोक्ता के साथ काम करने का फैसला वेतन संचरना पर निर्भर करता है। 70 प्रतिशत लोगों को लगता है कि उनकी आमदनी बाजार के अनुरूप नहीं जबकि 30 प्रतिशत के हिसाब से उन्हें उनके दायित्वों के मुकाबले कम वेतन मिलता है।’’

श्रेणियों के आधार पर जेड श्रेणी (21 से 25 वर्ष की आयु वर्ग) के 62 प्रतिशत और वाई श्रेणी (मिश्रित आयुवर्ग) के 46 प्रतिशत कर्मचारी अपने मौजूदा वेतन से खुश नहीं है। सर्वेक्षण के अनुसार कुल 54 प्रतिशत कर्मचारी अपने वेतन की संरचना से असंतुष्ट हैं।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

क्षेत्रों के आधार पर शिक्षा क्षेत्र में 60 प्रतिशत लोग अपने वेतन से असंतुष्ट हैं जबकि दूरसंचार क्षेत्र में वेतन से असंतुष्टि का प्रतिशत 50 है। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र के लोगों में भी वेतन से असंतुष्टि का स्तर 35 प्रतिशत है जबकि मीडिया और एंटरटेनमेंट क्षेत्र में 58 प्रतिशत कर्मचारी अपने वेतन से संतुष्ट हैं।

वेतन संरचना में मूल अवयव के अलावा गैर-आर्थिक लाभ को जहां 60 प्रतिशत महिलाएं महत्वपूर्ण मानती हैं वहीं पुरुषों में यह आंकडा 30 प्रतिशत है, हालांकि छह वर्ष से अधिक अनुभव वाले पुरुषों में यह आंकडा बढ़कर 45 प्रतिशत हो जाता है। जेड श्रेणी के 58 प्रतिशत कर्मचारी घर ले जाने लायक ज्यादा वेतन चाहते हैं जबकि वाई श्रेणी में यह प्रतिशत 39 है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top