गुजरात चुनावों में आप का खाता भी नहीं खुल सका, सभी 27 उम्मीदवारों की जमानत जब्त 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   19 Dec 2017 7:06 PM GMT

गुजरात चुनावों में  आप  का खाता भी नहीं खुल सका, सभी 27 उम्मीदवारों की जमानत जब्त आम आदमी पार्टी का सिम्बल।

अहमदाबाद (भाषा)। गुजरात विधानसभा चुनाव में पहली बार मैदान में उतरी आम आदमी पार्टी (आप) का खाता भी नहीं खुल सका और उसके सभी 27 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई। आप ने 27 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे जिनमें से 14 सीटें पार्टी ने कांग्रेस के हाथ गंवाई और शेष 13 सीटों पर उसे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के हाथों हार का सामना करना पड़ा।

बोटाद विधानसभा क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार एवं पूर्व मंत्री सौरभ पटेल ने कांग्रेस उम्मीदवार धीरज कलाथिया के खिलाफ जीत दर्ज की। आप उम्मीदवार जीलू बवालिया मैदान में खड़े 25 उम्मीदवारों में से 16वें स्थान पर रहे और उन्हें मात्र 361 वोट प्राप्त हुए। इस सीट पर बवालिया कई निर्दलीय उम्मीदवारों से भी बहुत पीछे रहे।

चुनाव आयोग के आकडों के अनुसार जामनगर (ग्रामीण) सीट पर आप उम्मीदवार परेश भंडारी 321 वोट हासिल करके 12वें स्थान पर रहे जबकि कांग्रेस के वल्लभ धाराविया ने 70,750 मत हासिल करके इस सीट पर जीत हासिल की।

धोराजी सीट पर आप उम्मीदवार हार्दिक वचानी 12वें स्थान पर रहे। इस सीट पर भी 25 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे। एक पाटीदार नेता कांग्रेस के ललित वसोया ने इस सीट पर जीत हासिल की। इसके अलावा लिंबायत विधानसभा सीट पर आप उम्मीदवार राशा उप्पालया 10वें स्थान पर रहे। इस सीट पर भाजपा की उम्मीदवार संगीता पाटिल ने जीत दर्ज की।

कतारगाम और बापूनगर सीटों पर आप उम्मीदवार तीसरे स्थान पर रहे। कतारगाम सीट पर आप के उम्मीदवार नागाजी भाई अम्बालिया ने 4,135 वोट प्राप्त किये। भाजपा उम्मीदवार विनोद भाई ने 1,25,387 वोट हासिल करके यह सीट जीती।

राजनीति से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

बापूनगर सीट पर आप के उम्मीदवार अमजद खान पठान को 1,548 वोट मिले। कांग्रेस के हिम्मत सिंह पटेल ने 58,785 मत प्राप्त करके इस सीट पर जीत हासिल की। आप के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राज्य में अपने उम्मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार करने नहीं आए थे।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top