भारती एयरटेल ने दान किए 7 हजार करोड़ रुपए,बनेगी यूनिवर्सिटी 

भारती एयरटेल ने दान किए 7 हजार करोड़ रुपए,बनेगी यूनिवर्सिटी सुनील भारती मित्तल

लखनऊ। देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनियों में शामिल भारती एयरटेल के मुखिया सुनील भारती मित्तल ने अपनी कुल संपत्ति के 10 फीसदी हिस्से को दान करने का फैसला लिया है। इस राशि की मदद से वो गरीब बच्चों के लिए देश के कई भागों में नए स्कूल और यूनिवर्सिटी खोलेंगे। यह राशि कुल मिलाकर 7 हजार करोड़ रुपये है, जिसमें कंपनी में तीन फीसदी हिस्सेदारी भी शामिल है।

इस नाम से खोलेगी स्कूल-यूनिवर्सिटी

सुनील भारती ने बयान जारी करते हुए कहा है कि वो इस राशि की मदद से गरीब बच्चों के लिए देश के कई इलाकों में सत्या भारती स्कूल की नई ब्रांचों के अलावा, सत्या भारती यूनिवर्सिटी भी खोलेगा। इसके अलावा देश के दो जिलों को खुले में शौच करने से मुक्त करने में भी मदद करेंगे।

और भी अरबपतियों ने किया है दान

सुनील भारती मित्तल इस ऐलान के बाद उन गिने चुने देश के अरबपति भारतीयों में शामिल हो गए हैं, जिन्होंने अपने धन का एक बड़ा हिस्सा लोगों के कल्याण के लिए दान कर दिया है। सुनील मित्तल से पहले इंफोसिस के चेयरमैन नंदन निलेकणी और उनकी पत्नी रोहिणी ने वॉरेन बफेट-बिल गेट्स के 'गिविंग प्लेज' पहल पर हस्ताक्षर किया था।

यह एक तरह की पहल है जिसमे अमीर लोग अपने सम्पति का एक बड़ा हिस्सा लोगों के कल्याण के लिए दान करते हैं। अपनी सम्पति लोगों के लिए दान देने की मुहीम से अभी तक विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी, बायोकॉन की एमडी किरण मजूमदार शॉ और शोभा डेवलपर्स के पीएनसी मेनन जुड़ चुके हैं।

क्या काम करती है भारती फाउंडेशन

भारती इंटरप्राइजेस के वाइस चेयरमैन राकेश भारती मित्तल ने बताया कि सत्य भारती यूनिवर्सिटी में विज्ञान और तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र पर खास फोकस करेगी। सत्य भारती यूनिवर्सिटी में आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए निःशुल्क शिक्षा और सुविधाएं दी जाएंगी।

भारती एयरटेल ने साल 2000 में अपनी सीएसआर इकाई भारती फाउंडेशन की स्थापना की थी। अभी फाउंडेशन के साथ करीब 8 हजार शिक्षक और 200 के आसपास प्रोफेशनल्स जुड़े हैं, जो मिलकर करीब 2.5 लाख बच्चों को शिक्षा दे रहे हैं।

ये लोग कर चुके हैं हस्ताक्षर

इस मुहिम में अभी तक विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी, बायोकॉन की एमडी किरण मजूमदार शॉ और शोभा डेवलपर्स के पीएनसी मेनन जुड़ चुके हैं।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top