जम्मू में एसएसबी शिविर कार्यालय और 45 दुकानें जलकर राख, लाखों रुपए की संपत्ति खाक 

जम्मू में एसएसबी शिविर कार्यालय और 45 दुकानें जलकर राख, लाखों रुपए की संपत्ति खाक प्रतीकात्मक फोटो।

भदेरवाह (जम्मू), (भाषा)। जम्मू कश्मीर के डोडा जिले में भीषण आग लगने से सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) का शिविर कार्यालय और 45 दुकानें जल कर खाक हो गईं। भालेसा इलाके के भात्यास के मुख्य बाजार में कल देर रात भीषण आग लग गई। इस आग में किसी के झुलसने की खबर नहीं है लेकिन लाखों रुपए की संपत्ति जल कर खाक हो गई है। पुलिस ने बताया कि रात करीब 12 बजेे बाजार में आग लग गई।

पुलिस और स्थानीय लोगों ने आग को बुझाने की कोशिश की जो बाजार में तेजी से फैल रही थी क्योंकि निकटवर्ती दुकानें एवं अन्य जगह मुख्य रूप से अधिकतर सूखी देवदार लकड़ी की बनी हुई थी। उपमंडलीय पुलिस अधिकारी जी एस गुप्ता ने कहा, ‘‘हमने ठठरी और गंदोह में दमकल कर्मियों को इस बारे में सूचित किया क्योंकि दोनों स्टेशन भात्यास बाजार से 16 किलोमीटर की दूरी पर है, स्थानीय लोगों की मदद से आग बुझाने का अभियान देर रात साढ़े 12 बजे आरंभ हुआ।''

उन्होंने कहा, ‘‘आग पर सुबह साढ़े पांच बजे काबू पाया गया लेकिन तब तक 45 दुकानें पूरी तरह जल चुकी थीं।'' एसएसबी का शिविर कार्यालय भी आग की चपेट में आ गया। अधिकारी ने बताया कि इस दौरान कोई घायल नहीं हुआ है।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

गुप्ता ने कहा, ‘‘पुलिस ने मामले की जांच शुुरू कर दी है क्योंकि पिछले कुछ महीनों में यह आग लगने की तीसरी बड़ी घटना है और इसमें किसी साजिश की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता।'' लोगों ने भालेसा इलाके में आग लगने की घटनाएं बार बार होने के मामले में उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है और गड़बड़ी का आरोप लगाया है। लोगों ने दावा किया है कि इस आग में करोड़ों रपए की संपत्ति का नुकसान हुआ है और सैकड़ों लोग बेरोजगार हो गए हैं।

इससे पहले 15 अप्रैल को भी गंदोह बाजार में आधी रात को इस प्रकार आग लगने से 26 दुकानें और आठ आवासीय मकान जल गए थे, गंदोह के मालिकपुर में 10 फरवरी को आग लगने की एक अन्य घटना में चार दुकानें एवं दो मकान जल गए थे।

Share it
Top