पीएम मोदी के ओडिशा दौरे के विरोध में नक्सलियों का डइकल्लू स्टेशन पर हमला, विस्फोट किया पोस्टर चिपकाए 

पीएम  मोदी के ओडिशा  दौरे के विरोध में नक्सलियों का डइकल्लू स्टेशन पर हमला, विस्फोट किया पोस्टर चिपकाए नरेंद्र मोदी

भुवनेश्वर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 15 अप्रैल को प्रस्तावित ओडिशा दौरे के विरोध में करीब 20 नक्सलियों ने राज्य के रायगढ़ा जिले में स्थित एक रेलवे स्टेशन पर हमला बोला है। स्टेशन मास्टर एस.के. परिदा ने एक बयान में कहा कि कम से कम 15-20 सशस्त्र नक्सली अपराह्न् करीब 1.30 बजे डइकल्लू स्टेशन पहुंचे और कार्यालय में घुस आए।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस्ट कोस्ट रेलवे के बयान में आगे कहा गया है कि नक्सलियों ने स्टेशन के कर्मचारियों को कार्यालय से जबरन बाहर निकाल दिया। उसके तत्काल बाद उन्होंने कार्यालय में विस्फोट कर दिया और स्टेशन मास्टर का वॉकी-टॉकी छीन लिया।

बयान के मुताबिक नक्सली अपराह्न् दो बजे के बाद स्टेशन से चले गए। बयान में साथ ही कहा गया है कि स्टेशन के सभी कर्मचारी सुरक्षित हैं। इस्ट कोस्ट रेलवे की एक टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है और मामले की जांच कर रही है।

मौके पर पहुंचे रायगढ के पुलिस अधीक्षक के सिवा सुब्रमणि ने कहा कि मालगाड़ी के ईंजन को हल्का नुकसान पहुंचा है। अधिकारियों ने कहा कि माओवादी अपने पीछे हाथ से लिखे कुछ पोस्टर छोड गए हैं, जिन पर केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार और ओडिशा में नवीन पटनायक की सरकार की नीतियों का विरोध किया गया है।

सीपीआरओ ने कहा कि इस घटना में किसी रेलकर्मी या स्थानीय व्यक्ति को नुकसान नहीं पहुंचा है, नियंत्रण कक्ष कर्मचारियों से बात कर पा रहा है।

रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि रायगढ और टिटलागढ स्टेशनों के बीच दाइकलू से होकर गुजरने वाली रेल सेवाएं कुछ समय के लिए बाधित हो गईं। कई ट्रेनें मुनिगुडा स्टेशन पर खड़ी रहीं।

माओवादियों की ओर से छोड़े एक एक पोस्टर में हमलावरों ने प्रधानमंत्री की 15 और 16 अप्रैल के लिए प्रस्तावित ओडिशा यात्रा का विरोध किया है, प्रधानमंत्री को भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में हिस्सा लेने के लिए यहां आना है। उन्होंने कहा कि कुछ पोस्टरों में इस बात का भी विरोध किया गया है कि ओडिशा से बाहर के अधिकारियों को राज्य की पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ पदों पर तैनात किया जा रहा है।

पुलिस महानिदेशक केबी सिंह ने कहा कि सीआरपीएफ और विशेष अभियान दल (एसओजी) के जवानों ने इस घटना के बाद इलाके में खोजी अभियान शुरू कर दिया है।

रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि मालगाड़ियों की आवाजाही सुरक्षा संबंधी हरी झंडी मिलने के बाद शुरू कर दी गई है हालांकि इन पर गति संबंधी निर्देश लागू किए गए हैं, एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनों की आवाजाही को जल्द ही बहाल करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।

भुवनेश्वर में 15 अप्रैल से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक होने वाली है। बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और लाल कृष्ण आडवाणी समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेता शामिल होंगे।

Share it
Top