Bihar Board 10th Results 2017: 51 फीसदी छात्र पास, टॉप 10 छात्र एक ही स्कूल से 

Bihar Board 10th Results 2017: 51 फीसदी छात्र पास, टॉप 10 छात्र एक ही स्कूल से प्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (बीएसईबी) ने 10वीं कक्षा की परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिए हैं। इस साल कक्षा 10वीं में टॉप करने वाले सभी 10 छात्र एक ही स्‍कूल से हैं। ये स्‍कूल जमुई में है और इसका नाम है सिमुलतला स्‍कूल। इसे राज्‍य के बेस्‍ट स्‍कूलों में गिना जाता है।बीएसईबी ने रिजल्ट की घोषणा दोपहर 1.15 बजे की।

छात्र बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट www.biharboard.ac.in पर अपने परीक्षा परिणाम देख सकते हैं।

इस साल 10वीं बोर्ड के एग्जाम 1 मार्च से 8 मार्च 2017 तक आयोजित किए गए थे। रिजल्ट बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने जारी किया। शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव महाजन भी परीक्षा परिणाम जारी करने के समय वहां उपस्थित थे।

इस साल कुल 51.3 प्रतिशत छात्र पास हुए हैं। बिहार बोर्ड में 8 लाख 56 हजार से अधिक बच्चे पास हो गए हैं। 40 फीसदी से अधिक छात्राएं पास हो गई हैं। जबकि 49.6 फीसदी छात्र सफल हुए हैं।

ये भी पढ़ें- योगी आदित्यनाथ ने 10वीं 12वीं के छात्र-छात्राओं को किया सम्मानित, कहा- जीवन में कभी न अपनाएं शॉर्टकट

कैसे देखें अपना रिजल्ट

रिजल्ट घोषित होने पर इस लिंक पर क्लिक कर अपना परीक्षा परिणाम जान सकते हैं। इसके लिए आपको अपना मोबाइल नंबर और रोल नंबर इसमें डालना होगा। स्टूडेंट्स बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर भी रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

· सबसे पहले बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट www.biharboard.ac.in या.biharboard.org पर पहुंचे।

· उसके बाद BSEB 10th Result 2017 लिंक पर क्लिक करें।

· आवश्यक जानकारी दर्ज करें।

· सब्मिट लिंक पर क्लिक करें, इसके बाद आपका रिजल्ट आपके सामने होगा।

बीएसईबी अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि इस परीक्षा के टॉपर्स की पहले ही चांच हो गई है। गोविंद हाई स्कूल के छात्र प्रेम कुमार ने टॉप किया है। सिमुलतला स्‍कूल की भव्या कुमारी दूसरी टॉपर हैं। आनंद किशोर ने बताया है कि इस साल 51 प्रतिशत पास हुए हैं। साथ ही फर्स्‍ट डिवीजन में 14 प्रतिशत बच्‍चे पास हुए हैं। 2nd डिवीजन में 27 प्रतिशत बच्‍चे और 3rd डिवीजन में 9.33 प्रतिशत बच्‍चे पास हुए हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top