पंजाब किसानों की कर्जमाफी पर सीएम कैप्टन अमरिंदर का यू-टर्न 

पंजाब किसानों की कर्जमाफी पर सीएम कैप्टन अमरिंदर का यू-टर्न कैप्टन अमरिंदर सिंह।

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कर्जमाफी वाले बयान पर किसानों से धोखा कर गए। अमरिंदर ने कहा कि पंजाब सरकार 5 एकड़ तक की खेती की जमीन वाले किसानों का सारा कर्जा माफ करने जा रही है, लेकिन उससे थोड़ी देर बाद जब मुख्यमंत्री ऑफिस की तरफ से प्रेस रिलीज जारी की गई तो इसमें कुछ और ही लिखा था।

प्रेस रिलीज में साफ लिखा था कि माफ किया जाने वाला कर्ज सिर्फ दो लाख रुपए तक का होगा यानि सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सदन में अपनी जो बात कही उससे वो अपनी प्रेस रिलीज में ही पलट गए। रिलीज में साफ लिखा है कि 5 एकड़ तक की जमीन वाले किसानों का सिर्फ दो लाख रुपये का कर्जा और छोटे किसानों का भी दो लाख रुपये तक का ही कर्जा माफ किया जा रहा है। हालांकि सदन में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहीं भी ये नहीं कहा कि 5 एकड़ की जमीन वाले किसानों का सिर्फ 2 लाख रुपया ही कर्ज माफ किया जाएगा।

अमरिंदर ने कहा था कि 5 एकड़ तक की खेती की जमीन वाले किसानों का पूरा कर्जा माफ किया जाएगा। एक और बात ये भी हैरान करने वाली है कि सीएम अपनी पेपर पर लिखी स्पीच देखकर पढ़ रहे थे, लेकिन उनकी स्पीच की कॉपी भी मीडिया गैलरी में बैठे पत्रकारों को नहीं दी गई।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top