Top

Lockdown: क्‍या आम लोगों को परेशान कर रही पुलिस? सोशल मीड‍िया में वायरल हो रहे Video

Ranvijay SinghRanvijay Singh   26 March 2020 11:42 AM GMT

Lockdown: क्‍या आम लोगों को परेशान कर रही पुलिस? सोशल मीड‍िया में वायरल हो रहे Video

पश्‍चिम बंगाल के हावड़ा में बुधवार को एक शख्‍स की पुलिस ने तब पिटाई कर दी जब वो लॉकडाउन के दौरान दूध लेने निकला था। बाद में इस शख्‍स की अस्‍पताल में मौत हो गई। घर वालों का आरोप है कि पुलिस की पिटाई की वजह से उसकी मौत हुई।

लॉकडाउन के बाद से ही कई ऐसे वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं जहां पुलिस लोगों को पीटते नजर आ रही है। साथ ही कुछ ऐसा वीडियो भी हैं जिसमें उन मजदूरों को भी परेशान किया जा रहा है जो दिल्‍ली या किसी दूसरे बड़े शहर से अपने गांव के ल‍िए पैदल ही न‍िकल गए हैं। जैसे यह वीडियो देखें-

यह वीडियो पत्रकार जेबा वारसी के ट्विवटर हैंडल से ट्वीट किया गया है। इसमें बताया गया है कि य‍ह वीडियो उत्‍तर प्रदेश के बदायुं का है। यह लड़के ग्‍वालियर से अपने घर के लिए पैदल ही न‍िकले थे, पुलिस ने उन्‍हें इस तरह पेरशान किया।

ऐसे ही और भी वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं। हाल ही में ऑनलाइन राशन का सामान डिल‍िवर करने वाली कंपनी Grofers के फाउंडर सौरभ कुमार ने ट्वीट करके बताया कि हमें पुलिस की वजह से दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा है। बाद में गुरुग्राम पुलिस ने ट्वीट करके कहा कि सभी पुलिस ऑफिसर ध्‍यान दें जोमैटा, फ्लिपकार्ट, अमेजन, ग्रोफर्स जैसे कई ऑनलाइन डिलीवरी सर्विस चलती रहेगी, इन्‍हें काम करने द‍िया जाए।

यह बात गौर करने वाली है कि ग्रोफर्स काफी बड़ी कंपनी है। ऐसे बहुत से छोटे दुकानदार और आम लोग हैं जो अपना राशन लेने के लिए बाहर न‍िकल रहे हैं और पुलिस उनके साथ भी गलत बर्ताव कर रही है। ऐसा ही एक वीडियो यह है जहां स्‍कूटी पर राशन लादे इस शख्‍स को पुलिस पीट रही है -

इसके अलावा भी कई वीडियो सामने आ रहे हैं जैसे ये एक वीडियो है जिसमें पुलिसकर्मी सब्‍जी के ठेले को गिराते दिख रहा, जबकि लॉकडाउन में सब्‍जी बेचने वाले दुकानदारों को छूट मिली हुई है। इस वीडियो के वायरल होने के बाद दिल्‍ली पुलिस के कॉन्‍सटेबिल राजबीर को सस्‍पेंड कर दिया गया है। देखें यह वीडियो -

ऐसा भी नहीं कि लॉकडाउन के दौरान पुलिस का स‍िर्फ अमानवीय चेहरा ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ऐसी भी तस्‍वीरें और वीडियो सामने आ रहे हैं जहां पुलिस वाले लोगों को खाना खिला रहे हैं। ऐसा ही एक वीडियो आगरा पुल‍िस का सामने आया है, जहां पुलिसकर्मियों के द्वारा द‍िल्‍ली से चले मजदूरों को आगरा पहुंचने पर खाना खिलाया गया। देखें यह वीडियो-

क्‍या होता है लॉकडाउन?

लॉकडाउन का मतलब है कि इस दौरान आपातकालीन/आवश्‍यक सेवाओं को छोड़कर सभी सेवाओं पर रोक लगा दी जाती है। लॉकडाउन की स्थिति में किसी भी शख्स को जीवन जीने के लिए बुनियादी और आवश्यक चीजों को लेने के लिए ही बाहर निकलने की इजाजत होती है। जैसे अगर किसी को राशन, दवा, सब्जी की जरूरत है तो वह बाहर जा सकता है। साथ ही एटीएम और अस्‍पताल भी खुले रहते हैं। लॉकडाउन का मतलब कर्फ्यू नहीं होता है। कर्फ्यू के वक्‍त राशन और दूध जैसी आवश्‍यक दुकानें भी बंद रहती हैं।

क्‍या-क्‍या खुला रहेगा?

लॉकडाउन में लोग आवश्‍यक चीजें ले सकते हैं। इन आवश्‍यक चीजों में दवा, राशन, दूध, पेट्रोल और बैंकिंग सेवा शामिल है। यानी दवाओं की दुकानें, राशन की दुकानें, डेयरी एवं डेयरी से संबंधित प्रतिष्ठान खुले रहेंगे। साथ ही सीएनजी/एलपीजी पंप और पेट्रोल पंप खुले रहेंगे। बैंकिंग और एटीएम की सुविधा जारी रहेगी। प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया भी काम करते रहेंगे।

एक बात यह भी है कि अगर कोई लॉकडाउन का पालन नहीं करता है और बिना जरूरी वजह के बाहर निकलता है तो पुलिस उसके खिलाफ कार्रवाई भी कर सकती है। उस शख्‍स पर एफआईआर भी दर्ज की जा सकती है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.