दिल्ली: मेजेंटा लाइन पर जल्द ही दौड़ेगी मेट्रो, 50 मिनट में पूरा हो जाएगा दो घंटे का सफर

मेजेंटा लाइन के इस खंड में 16 स्टेशन हैं जिनमें दो इंटरचेंज - हौजखास (यलो लाइन के साथ) एवं जनकपुरी पश्चिम (ब्लू लाइन के साथ) स्टेशन शामिल हैं।

दिल्ली: मेजेंटा लाइन पर जल्द ही दौड़ेगी मेट्रो, 50 मिनट में पूरा हो जाएगा दो घंटे का सफर

मेट्रो रेल सुरक्षा आयुक्त ने जनकपुरी पश्चिम और कालकाजी मंदिर के बीच 25.6 किलोमीटर लंबे खंड पर यात्री सेवाएं शुरू करने की अनिवार्य मंजूरी दे दी। मेट्रो खंड पर जल्द ही सेवा शुरू हो जाएगी।
दिल्ली मेट्रो रेल निगम के एक अधिकारी ने कहा, '' मेट्रो रेल सुरक्षा आयुक्त ने जनकपुरी पश्चिम - कालकाजी मंदिर पर यात्री सेवाएं शुरू करने की अनिवार्य मंजूरी दे दी जो कुछ नियम एवं शर्तें पूरी करने से जुड़़ी थी।'' मेजेंटा लाइन के इस खंड में 16 स्टेशन हैं जिनमें दो इंटरचेंज - हौजखास (यलो लाइन के साथ) एवं जनकपुरी पश्चिम (ब्लू लाइन के साथ) स्टेशन शामिल हैं। पूरे मेजेंटा लाइन में कुल 25 स्टेशन हैं लेकिन इस समय कालकाजी मंदिर और बोटैनिकल गार्डन ( नोएडा ) के बीच ही मेट्रो सेवा दी जा रही है।
नये खंड में सेवा शुरू होने पर बोटैनिकल गार्डन और जनकपुरी पश्चिम के बीच सीधा सफर शुरू हो जाएगा। मेजेंटा लाइन से पश्चिमी एवं दक्षिणी दिल्ली और गुरूग्राम , फरीदाबाद एवं नोएडा के बीच सफर का समय कम हो जाएगा। मसलन हौजखास एवं जनकपुरी पश्चिम के बीच सफर के लिए इस समय राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर ट्रेन बदलने की जरूरत पड़ती है और सफर में करीब 55 मिनट का समय लगता है। लेकिन मेजेंटा लाइन के इस खंड पर सेवाएं शुरू होने के बाद सफर में 30 मिनट से भी कम समय लगेगा। अधिकारी ने कहा , '' डीएमआरसी से मंजूरी मिलने के बाद इस कॉरिडोर के शुरू होने की सही तारीख की जानकारी दे दी जाएगी।'
नोएडा से एयरपोर्ट तक का सफर केवल 50 मिनट में
अब नोएडा से सीधे एयरपोर्ट तक का सफर 2 घंटे की बजाय केवल 50 मिनट में पूरा होगा। यात्रियों को नोएडा से सीधे दक्षिणी दिल्ली की कनेक्टिविटी मिलेगी, ये सफर सिर्फ 19 मिनट में पूरा होगा। यही नहीं दक्षिणी दिल्ली से पश्चिमी दिल्ली की सीधी कनेक्टिविटी भी होगी और इस तरह सड़क से 1 लाख लोग कम होंगे।
(एजेंसी)

Share it
Top