भारतीय रेल: अब नहीं दिखेगी तेजस और शताब्दी में एलसीडी स्क्रीन, ज़रा आप भी जानिए शर्मसार करने वाली वजह

भारतीय रेल: अब नहीं दिखेगी तेजस और शताब्दी में एलसीडी स्क्रीन, ज़रा आप भी जानिए शर्मसार करने वाली वजहसाभार: इंटरनेट।

अक्सर लोगों को भारतीय रेल से सुविधाओें को लेकर शिकायत रहती है लेकिन जब रेलवे सुविधा देती है तो यात्री उसे लेना नहीं चाहते है। हम बात कर रहे हैं लक्जरी ट्रेन की जिसमें ये कहा जा सकता है कि इस ट्रेन में बड़े दर्जे का शिक्षित वर्ग यात्रा करता है। मामला तेजस एक्सप्रेस का है। भारतीय रेल ने मई 2017 में मुंबई और गोवा के बीच तेजस एक्सप्रेस की शुरूआत की थी।

ट्रेन में यात्रियों की ज्यादा से ज्यादा सुविधाओं का ध्यान रखा गया है। यात्री सफर के दौरान बोर न हों उसके लिए रेलवे ने तेजस में एलसीडी स्क्रीन लगाई थी। लेकिन ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को शायद इन सब चीजों की आदत नहीं शायद यही वजह है कि जब ट्रेन अपने गंतव्य तक पहुंची तो पाया गया कि ट्रेन में लगी एलसीडी स्क्रीन के साथ तोड़ फोड़ की गई थी।

ये भी पढ़ें- आज से दौड़ेगी एलईडी टीवी, वाई-फाई, सीसीटीवी से लैस तेजस एक्सप्रेस, रेलमंत्री दिखाएंगे हरी झंडी

इतना ही नहीं यात्रियों को कुछ नहीं मिला तो ट्रेन में लगे हेडफोन भी अपने साथ ले गए। इस तरह की घटना को देखने के बाद भारतीय रेल सोचने पर मजबूर हो गया है कि यात्रियों को कैसी सुविधा दी जाए। फिलहाल रेल विभाग ने तेजस और शताब्दी से एलसीडी हटाने का फैसला लिया है।

बता दें तेजस एक्सप्रेस भारत की सबसे अपडेटेड ट्रेनों में से एक है। ट्रेन में ऑटोमेटिक डोर, जीपीएस, फायर स्मोक डिटेकशन सिस्टम, सीसीटीवी इत्यादी जैसी चीजे हैं। बहरहाल आपको बता दें कि, अब तेजस एकस्प्रेस और शताब्दी एक्सप्रेस में एलसीडी स्क्रीन नहीं लगाई जाएंगी।ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Tags:    Indian Railways 
Share it
Top