बिहार में फांसी की सजा सुनाने वाले न्यायाधीश को नक्सलियों की धमकी  

बिहार में फांसी की सजा सुनाने वाले न्यायाधीश को नक्सलियों की धमकी  नक्सलियों को फांसी की सजा सुनाए जाने के बाद प्रतिबंधित नक्सली संगठन ने जनादालत लगाकर न्यायाधीश को मौत की सजा देने की धमकी दी


मुंगेर| जिले के एक न्यायाधीश को पांच नक्सलियों को फांसी की सजा सुनाए जाने के बाद प्रतिबंधित नक्सली संगठन भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) ने जनअदालत लगाकर मौत की सजा देने की धमकी दी है। इसके बाद न्यायधीश की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। भाकपा (माओवादी) बिहार-झारखंड जोनल कमेटी के कथित स्वयंभू प्रवक्ता लालजीत कोड़ा द्वारा जारी पत्र में मुंगेर के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (प्रथम) ज्योति स्वरूप श्रीवास्तव को जनअदालत लगाकर सजा देने की धमकी दी है।

पत्र में फांसी की सजा पाए पांचों आरोपितों- विपिन मंडल, अधिकलाल पंडित, रत्तू कोड़ा, बानो कोड़ा और मन्नू कोड़ा को निर्दोष बताया गया है। पत्र में इस सजा के विरोध में 28 और 29 मई को मुंगेर, जमुई, लखीसराय, बांका और भागलपुर में बंद करने की घोषणा भी की गई है।

इधर, मुंगेर के पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने शनिवार को कहा कि मामले की सूचना के बाद एहतियातन अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (प्रथम) श्रीवास्तव की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। जिले के सभी थानों को अलर्ट करने के अलावा न्यायाधीश के आवास पर अतिरिक्त पुलिस बलों की प्रतिनियुक्ति की गई है। उन्होंने हालांकि ऐसे किसी पत्र के मिलने की सूचना से इनकार किया है।

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के दो जवानों की हत्या के आरोप में अदालत ने 25 मई को पांच नक्सलियों को फांसी की सजा सुनाई थी।

यह भी पढें... छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ दल पर नक्सली हमला, 11 जवान शहीद


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top