पाकिस्तान: मस्जिद में की चोरी... ख़त में लिखा, मेरे और अल्लाह के बीच का मामला

पाकिस्तान: मस्जिद में की चोरी... ख़त में लिखा, मेरे और अल्लाह के बीच का मामलाप्रतीकात्मक तस्वीर

लाहौर। पाकिस्तान में एक शख्स़ ने मस्जिद से करीब 50,000 रुपये की चोरी के साथ दो बैट्री पर भी हाथ साफ कर दिया। चोरी करने के बाद इस शख्स़ ने एक ख़त भी छोड़ दिया जिसमें उसने लिखा है ये उसके और ऊपर वाले के बीच का मामला है इस मामले में किसी को दखल देने की कोई जरूरत नहीं है। मस्जिद के मौलाना ने बताया कि दान पात्र और बैट्री दोनों को मिलाकर इनकी कीमत करीब 50,000 रुपये के आस-पास है।

मामला दक्षिणी पंजाब के खानेवाल जिले के जामिया मस्जिद सादीकुद मेदिना का है। शख्स़ ने मस्जिद से दो दान पेटी और दो बैट्री चुराई। मस्जिद में बैट्री का इस्तेमाल बिजली के न रहने पर नमाज़ अता करने के लिये किया जाता था। व्यक्ति ने खत में लिखा कि "ये मेरे और अल्लाह के बीच का मामला है और किसी को भी इस मामले में दखल देने की ज़रूरत नहीं है।

ये भी पढ़ें- रवीशपंती: ख़बरें न कर पाने की व्यथा और अच्छी ख़बरों को साझा करने की ख़ुशी

मुझे कोई भी खोजने की कोशिश न करे मैंने किसी के घर से चोरी नहीं की है मुझे इनकी ज़रूरत है इसलिये मैंने अल्लाह के घर से चोरी की है।" ख़त के जरिये उसने बताया कि मैं पहले भी मस्जिद आया था मौलाना से मदद की गुहार भी लगाई थी लेकिन मौलाना ने मदद करने के बजाय मस्जिद से बाहर निकाल दिया। मजबूरन मुझे ये कदम उठाना पड़ा।

चोर के लिये लोगों में जगी सहानुभूति

पाकिस्तानी अख़बार की रिर्पोट के मुताबिक स्थानीय लोगों ने चोर के प्रति सहानुभूति जताते हुए मौलाना से उस शख्स़ को माफ करने का अनुरोध किया है साथ ही कुछ स्थानीय लोगों ने मस्जिद में बैट्री का इंतजाम करने का भी वादा किया।

ये भी पढ़ें- आपातकाल के मायने: मौत सब के लिए समान है, मेरे लिए भी, तुम्हारे लिए भी

मौलाना ने स्थानीय लोगों की बात को दरकिनार करते हुए कहा कि चोर को पकड़ा जाना चाहिये और उसे सजा मिलनी चाहिये। हांलाकि मौलाना से जब इस बारे में पूछा गया कि क्या बीते दिनों कोई उनके पास मदद मांगने के लिये आया था तो इस पर उन्होंने कोई जवाब देना मुनासिब नहीं समझा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top