पत्थरबाजी करने वाले युवाओं को पीएम ने लिया आड़े हाथ, बताया कश्मीर की विकास में बन रहे बाधा

पत्थरबाजी करने वाले युवाओं को पीएम ने लिया आड़े हाथ, बताया कश्मीर की विकास में बन रहे बाधारैली से पहले सुरंग का जायजा लेते पीएम नरेंद्र मोदी।- पीटीआई

जम्मू। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित देश की सबसे लंबी नाशरी-चेनानी सुरंग का उद्घाटन किया। इस दौरान इन्होंने कश्मीर में पत्थरबाजी करने वाले युवाओं को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि कश्मीर के कुछ युवा यहां पत्थरबाज़ी करने में लगे हुए हैं। जबकि इन्हीं में से कुछ ऐसे भी रहे जिन्होंने एक एक पत्थर जोड़ कर देश की सबसे लंबी सुरंग बनाने में खुद को समर्पित किया।

सुरंग को ऐतिहासिक बताते हुए उन्होंने कहा कि अब यही सुरंग कश्मीर घाटी के पर्यटन को बढ़ावा देने में अहम योगदान देने वाली है। इससे दुनिया भर से पर्यटक घाटी में भ्रमण को आएंगे और यहां के लोगों को रोजगार प्राप्त होगा। इस दौरान मौजूद जन सभा भी तालियों की गड़गड़ाहट के साथ उनका स्वागत करती रही। उन्होंने अपने संबोधन में आगे कहा कि युवाओं को विकास पथ में अपना योगदान देना चाहिए, तभी कश्मीर का भविष्य संवरेगा।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उल्लेखनीय है कि इस सुरंग के जरिए जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग के 30 किलोमीटर लंबे खतरनाक, दुर्गम मार्ग से बचा जा सकेगा। इस दौरान परिवहन मंंत्री नितिन गडकरी भी मोदी के साथ मौजूद रहे।

सुरंग बनाने में लगे 5 वर्ष

देश की इस सबसे लंबी सुरंग को तैयार करने में करीब पांच साल का वक्त लगा है। दिलचस्प ये है कि इन पांच वर्षों में हिमालय पर एक भी पेड़ नहीं काटे गए। इतना ही नहीं ज्यादातर स्थानीय लोगों को ट्रेनिंग देकर सुरंग के काम में लगाया गया। उम्मीद की जा रही है कि चेनानी नशरी सुरंग धरती की जन्नत के लिए वाकई नायाब तोहफा है। इसने घाटी को उम्मीदों की नई रोशनी दी है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top