भारतीय रेल: यात्री अब रेल में सफाई से संतुष्ट हैं या नहीं, इसका जवाब देंगे रेटिंग के जरिए

भारतीय रेल: यात्री अब रेल में सफाई से संतुष्ट हैं या नहीं, इसका जवाब देंगे रेटिंग के जरिएसाभार: इंटरनेट।

अब ट्रेनों में होने वाली सफाई से अगर यात्री संतुष्ट नहीं हुए तो इसका सीधा असर ठेकेदार को मिलने वाले भुगतान पर होगा। अब रेल में यात्रा करने वाले यात्री रेल में होने वाली साफ-सफाई की शिकायत या प्रशंसा अब रेटिंग के माध्यम से कर सकेंगे। रेलवे ने इस काम के लिए नए अनुबंध किए हैं। जिसके मुताबिक ठेकेदारों के काम-काज के आधार पर उनके यात्रियों से मिले रेटिंग के मुताबिक 30 प्रतिशत जुर्माना या प्रोत्साहन राशि निर्धारित की जाएगी।

नए नियम के अनुसार सफाईकर्मियों की उपस्थिति का रिकॉर्ड प्रत्येक महीने रेलवे सुपरवाइजर को सौंपना होगा जिसके आधार पर 25 फीसदी वेटेज तय किए जाएंगे। वहीं, सफाई के रिकॉर्ड से 15 फीसदी वेटेज मिलेगा और खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता, चादर एवं कंबल वितरण और अधिकारियों द्वारा औचक निरीक्षण के आधार पर प्रत्येक में 10 फीसदी वेटेज मिलेंगे। रेल यात्रियों के फीडबैक से 30 फीसदी वेटेज मिलेगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Tags:    Indian Railways 
Share it
Share it
Share it
Top