तस्वीरों में देखें ग्रामीण झारखंड को

बात जब झारखंड की होती है तो कुछ लोगों के जेहन में एक पिछड़े, तीर-कमान लिए हुए आदिवासी , भूखमरी और गरीबी की तस्वीर नजर आती है। लेकिन इससे कहीं इतर है झारखंड। यहां के गांव बेहद खूबसूरत हैं। ग्रामीण लोग सीधे-सच्चे और ईमानदार हैं। एक बार झारखंड जाकर देखीए, आपका नजरिया बदल जाएगा।

तस्वीरों में देखें ग्रामीण झारखंड को

झारखंड वानस्पतिक एवं जैविक विविधताओं का भंडार कहना गलत नहीं होगा। हर तरफ हरियाली ही हरियाली नजर आती है। यहां के किसान कुछ इस तरह के छोटे-छोटे खेतों में फसल उगाते हैं। फोटो: चन्द्रकान्त मिश्रा


झारखंड के किसान गोभी, बीन, मूली, गाजर, टमाटर, आलू इत्यादि की पैदावार कर बंगाल तक सब्जी को बेचते हैं। यहां के कुछ किसान अब जैविक सब्जी की खेती भी करते हैं। फोटो: चन्द्रकान्त मिश्रा



झारखण्ड के किसान सिर्फ खेती पर भरोसा न करके बल्कि पशुपालन, मछली पालन, मुर्गी पालन, बकरी पालन, सुकर पालन भी करते हैं। फोटो: चन्द्रकान्त मिश्रा


ग्रमाीण क्षेत्र में कच्चे मकान ज्यादा देखने को मिलते हैं। बरसात से बचने के लिए टूटे मकान करते लोग। फोटो: चन्द्रकान्त मिश्रा



ग्रामीण क्षेत्रों में लोग अपने छोटे जानवरों बकरी, मुर्गी और बत्तखों को कुछ इस तरह के झोपड़ी नुमा मकान में रखते हैं। फोटो: चन्द्रकान्त मिश्रा




बरसात के सीजन में यहां का मौसम काफी सुहावना होता है। लगभग हर दिन दोपहर के बाद एक बार बारिश जरूर हो जाती है। फोटो: चन्द्रकान्त मिश्रा



झारखंड में सड़कों पर तेजी से काम हो रहा है। यहां तरफ चौड़ी और शानदार सड़के देखने को मिल जाएंगी।



ज्यादातर लोगों के आय का जरिया खेती और पशुपालन है। फोटो: चन्द्रकान्त मिश्रा



Share it
Top