मुख्यमंत्री समग्र ग्राम योजना से अब चमकेंगे औरैया के पिछडे़ गाँव

Ishtiyak KhanIshtiyak Khan   12 May 2018 8:50 AM GMT

मुख्यमंत्री समग्र ग्राम योजना से अब चमकेंगे औरैया के पिछडे़ गाँव

औरैया। मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना के तहत जिले के 29 गांवोंका चयन हुआ है चयनित गांवों की सूची बनाकर शासन को भेजी जा चुकी है। शासन से बजट पास होते ही काम शुरू हो जायेगा।
जिले के उन गांवों का समग्र ग्राम विकास योजना में चयन किया गया है वो अति पिछडे़ गांव हैं। समग्र ग्राम विकास योजना के तहत गांव में सड़क, पानी, बिजली, पानी और स्वास्थ्य सेवाओं की व्यवस्था होगी। इसके अलावा आवास, पेंशन जैसी योजनाओं को प्राथमिकता से लागू किया जायेगा। गांवों का चयन जिलाधिकारी द्वारा गठित टीम ने कर शासन को भेज दिया है। इन गांवों में वो भी गांव शामिल है जिन गांवो में फ्रीडम फाइटर रहते हैं। परियोजना निदेशक जीपी गौतम ने बताया शासन की गाइड लाइन को ध्यान में रखकर सूची तैयार की गई है। शासन स्वीकृति और बजट मिलने पर काम शुरू हो जायेगा। समग्र ग्राम विकास योजना में गांव के प्रत्येक कार्य आ गये है। जिन गांवों का चयन किया गया है उनका चहुमुखी विकास होगा।
जिले के इन गांवो का हुआ चयन

पेय जल की होगी व्यवस्था।

अजीतमल ब्लाक के मुडैना रूप सहाय, सेंगनपुटठा, भीखेपुर, गोहानी खुर्द, नगला सिमार, फूलपुर, भाग्यनगर ब्लाक के देवरपुर, वैसुंधरा, पसईपुर-केशमपुर, जुआ, अछल्छा ब्लाक के लहटोरिया, वंशी, पाता, दखनाई, इटैली, भदौरा, बिधूना ब्लाक के मटेरा, महूं, गुरा, सहार ब्लाक नौगवां, अवावर, औरैया ब्लाक का गांव क्योंटरा, जैतापुर, बाकरपुर, शहब्दा, रजपुरा, एरवाकटरा ब्लाक का गांव एरवाकुइली, सुरैंधा मानीकोठी गांव का चयन हुआ है।
कन्नौज लोक सभा के 14 गांवों का चयन
मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना के तहत कन्नौज लोक सभा क्षेत्र के 14 गांवों का चयन किया गया है ये गांव औरैया जिले में ही पड़ते हैं। जबकि इटावा लोकसभा क्षेत्र के 15 गांवों का चयन हुआ है। औरैया जिले में आंशिक भाग कन्नौज लोकसभा का है जब कि बड़ा भाग इटावा लोक सभा का है। इसमें ब्लाक अछल्दा के छह गांव, बिधूना के तीन, एरवाकटरा के तीन व सहार ब्लाक के दो गांव शामिल हैं।
कार्यकत्रियों को मिलेंगे स्मार्ट फोन
आंगनबाड़ी केंद्रों पर स्मार्ट फोन व पोर्टल से निगरानी करने की कवायद प्रदेश सरकार ने शुरू की है। स्मार्ट फोन से ही पोर्टल से आंगनबाड़ी का सारा काम करेंगे। केंद्र खोलने से लेकर बच्चों की हाजिरी व योजनाओं के संचालन का काम भी आनलाइन ही होगा। सरकार प्रत्येक आंगनबाडी कार्यकत्री को स्मार्ट फोन उपलब्ध करायेगी। जिससे पोर्टल जुडा रहेगा। डीपीओ राहुल राय ने बताया पोषण मिशन योजना में देश के सभी जिलों को शामिल किया गया है। मोबाइल मिलने से आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को योजनाओं के क्रियान्वयन में आसानी होगी।
स्वास्थ्य विभाग को होगा फायदा
कार्यकत्रियों को स्मार्ट फोन मिलने पर उन्हें गर्भवती महिलाओं व बच्चों के टीकाकरण के काम की सारी जानकारी पोर्टल पर देनी होगी। जो कि स्वास्थ्य विभाग से जुडा हुआ पोर्टल होगा। टीकाकरण और पोषण का आदेश भी कार्यकत्रियों को पोर्टल पर दिये जायेंगे। इससे महिलाओं को मुख्यालय तक आने की जरूरत नहीं पडेगी और न ही स्वास्थ्य विभाग जाना पडेगा।
गांवों में होंगे ये विकास कार्य
इस योजना के अंतर्गत चयनित गांवों में संपर्क मार्ग, सड़क, विद्युतीकरण, पेयजल, ग्राम के अंदर खड़ंजा, नाली निर्माण, कल्याणकारी लाभार्थीपरक योजनाएं, पेंशन, स्वास्थ्य, राशन कार्ड, शिक्षा, आवास, स्वच्छता, कौशल विकास, आजीविका एवं कृषि योजनाएं चलाई जाएंगी। मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना के तहत चयनित गांवों को 17 कार्यदाई संस्थाएं संतृप्त करेंगी। योजना के तहत उन गांवों का चयन किया जाएगा। गांव में संपर्क मार्ग, सड़क, विद्युतीकरण, पेयजल, ग्राम के अंदर खड़ंजा, नाली निर्माण के साथ कल्याणकारी योजनाओं का लाभ भी ग्रामीणों को दिया जाएगा।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top