अमेरिका में आईवीएफ से जन्मे 10 लाख बच्चे

अमेरिका में आईवीएफ से जन्मे 10 लाख बच्चेफोटो प्रतीकात्मक।

वाशिंगटन (आईएएनएस)। अमेरिका में 'इन विट्रो-फर्टिलाइजेशन' (आईवीएफ) और प्रजनन की सहायता में इस्तेमाल होने वाली अन्य प्रौद्योगिकियों के जरिए 10 लाख बच्चों का जन्म हुआ। एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। 'यूएस सोसाइटी फॉर असिस्टेड रिप्रोडक्टिव टेक्नोलॉजी' (एसएआरटी) की ओर से इस सप्ताह रिलीज हुई रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। इसके लिए 1985 में प्रजनन सहायक तकनीक (एआरटी) पर डेटा एकत्र करना शुरू कर दिया था।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, अमेरिका में महिलाओं में बांझपन से संबंधित समस्याओं का समाधान निकालने वाली 90 प्रतिशत से अधिक क्लीनिकों का प्रतिनिधित्व करने वाले एसएआरटी ने 2015 में रिपोर्ट में कहा था कि उन्होंने करीब 213,004 लोगों का उपचार किया, जिससे 67,818 बच्चों का जन्म हुआ। इसी साल में इस इलाज के कई सकारात्मक परिणाम देखने को मिले।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

रिपोर्ट में कहा गया कि 'एग क्रायो-प्रिसरवेशन' तकनीक में सुधार के कारण 'फ्रोजन डोनर एग्स' का इस्तेमाल भी अधिक हुआ है। साल 2014 में 'फ्रोजन डोनर एग्स' के इस्तेमाल से 2, 886 लोगों का इलाज शुरू किया गया। 2015 में इसका इस्तेमाल करने वालों की संख्या 3,215 तक बढ़ी। अमेरिका में आईवीएफ प्रक्रिया की शुरुआत 1981 में की गई थी। एसएआरटी के अनुसार, देश में 100 में से एक बच्चे का जन्म इस प्रक्रिया के जरिए होता है। विश्व में आईवीएफ प्रक्रिया के जरिए 1978 में पहले बच्चे लुइस ब्राउन का जन्म ब्रिटेन में हुआ था।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top