गुजरात में है एक अनोखा अस्पताल जहां बेटी पैदा होने पर नहीं लगती है फ़ीस

गुजरात में है एक अनोखा अस्पताल जहां बेटी पैदा होने पर नहीं लगती है फ़ीसगुजरात में है एक अनोखा अस्पताल जहां बेटी पैदा होने पर नहीं लगती है फ़ीस

गाँव कनेक्शन नेटवर्क। गुजरात में सिंधु सेवा समाज के सिंधु अस्पताल ने बेटियों के लिए अक अनोखी पहल की शुरुआत की है। लोगों को बेटियों की अहमियत समझाने और लिंगानुपात सुधारने के लिए सिंधु अस्पताल ने बेटी पैदा होने पर फीस नहीं लेने का ऐलान किया है। सिर्फ इतना ही नहीं सिंधु अस्पताल ने इस बार बेटी होने का जश्न मनाने का भी फैसला किया है। बेटी पैदा होने पर अस्पताल ना सिर्फ माता-पिता को हॉस्पिटल की रज़िस्ट्रेशन फ़ीस वापस लौटाता है बल्कि अस्पताल की ओर से केक काटने के बाद रिश्तेदारों को पार्टी भी दी जाती है। अब तक सिंधु अस्पताल में 150 लोग रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। 

गुजरात में 1000 लड़कों पर 890 लड़कियां

गुजरात में 1000 लड़कों पर 890 लड़कियों का अनुपात है। 2011 की जनगणना के मुताबिक पूरे देश में 1000 पुरुषों पर 940 महिलाएं हैं। सामान्य डिलिवरी की हालत में सिंधु अस्पताल 7000 रुपये और सी-सेक्शन के लिए 20,000 फीस लेता है। लेकिन बेटी पैदा होने पर माता-पिता से किसी भी तरह की फीस नहीं ली जाती है।

Tags:    India 
Share it
Top