ब्रिटेन में आम चुनाव आज: ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री थेरेसा मे और जेरेमी कोर्बिन के लिए मतदान शुरू 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   8 Jun 2017 12:59 PM GMT

ब्रिटेन में आम चुनाव आज: ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री थेरेसा मे और जेरेमी कोर्बिन के लिए मतदान शुरू थेरेसा मे और जेरेमी कोर्बिन कौन बनेगा ब्रिटेन का नया प्रधानमंत्री, मतदान शुरू।

लंदन (आईएएनएस)। ब्रिटेन में आम चुनाव के लिए मतदान आज से (8 जून ) शुरू हो गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सत्तारूढ़ कन्जर्वेटिव पार्टी और विपक्षी लेबर पार्टी के बीच की कांटे की टक्कर है। थेरेसा मे और जेरेमी कोर्बिन में से ब्रिटेन का नया प्रधानमंत्री कौन बनेगा मतगणना के बाद इसका खुलासा हो जाएगा। देश में 4.69 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे.

ब्रिटेन में हाल ही में हुए आतंकी हमलों की दहशत के बीच गुरुवार को लाखों लोग आम चुनाव के लिए मतदान करेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सत्तारूढ़ कन्जर्वेटिव पार्टी और विपक्षी लेबर पार्टी के बीच की कांटे की टक्कर है। हालांकि मतदान पूर्व अनुमान में सत्तारूढ़ कन्जर्वेटिव पार्टी को बहुमत मिलने की संभावना जताई जा रही है।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, स्थानीय समयानुसार सुबह सात बजे देशभर के 40,000 मतदान केंद्रों पर वोट डाले जाएंगे। मतदान रात 10 बजे (भारतीय समयानुसार देर रात ढाई बजे) समाप्त होगा, जिसके बाद वोटों की गिनती शुरू होगी। मतदान पूरा होने के एक घंटे के भीतर नतीजे आने की संभावना है।

मतदान में 4.69 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे और 650 वेस्टमिन्सटर सांसदों का चुनाव करेंगे। डाक के जरिए पहले ही कुछ वोट डाले जा चुके हैं।

दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

हाउस ऑफ कॉमन्स में बहुमत के लिए किसी भी पार्टी को 326 सीटें हासिल करनी होंगी।

थेरेसा मे (60 वर्ष) ने निर्धारित समय से तीन साल पहले ही चुनावों का आह्वान कर दिया था। उन्होंने 28 सदस्यों वाले यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के निकलने से जुड़ी पेचीदा बातचीत से पहले ही इन चुनावों को करवा लिया है।

तीन साल में ब्रिटेन के इस चौथे बड़े चुनाव में 4.6 करोड़ लोग मतदान के योग्य हैं, इनमें 15 लाख मतदाता भारतीय मूल के हैं, इससे पहले वर्ष 2014 में स्कॉटलैंड की स्वतंत्रता के लिए जनमत संग्रह हुआ था, वर्ष 2015 में आम चुनाव हुआ था और वर्ष 2016 में ब्रेग्जिट के मुद्दे पर मतदान हुआ था। यह देखा जाना अभी बाकी है कि मध्यावधि चुनाव कराने का टेरीजा का फैसला उनकी कंजर्वेटिव पार्टी की जीत के पूर्वानुमानों को यथार्थ में बदल पाता है या फिर लेबर पार्टी हाउस ऑफ कॉमन्स में टेरीजा की पार्टी के हल्के बहुमत को नुकसान पहुंचाने में सफल हो जाती है।

गार्डियन की रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने बुधवार को चुनाव अभियान के अंतिम दिन कहा कि वह 'सकारात्मक महसूस कर रही हैं।' उन्होंने विपक्षी लेबर पार्टी के गढ़ों - वेस्ट मिडलैंड्स, यॉकशायर और पूवरेत्तर में मतदाताओं से वोट की अपील की।

उन्होंने कहा कि ब्रेक्सिट की प्रक्रिया के लिए महज 11 दिन बचे हैं और मतदाताओं के पास उनमें या लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कोर्बिन में से किसी एक को चुनने का विकल्प है।

थेरेसा ने फ्लीटवुड, ब्रैडफोर्ड, स्टोक, साउथंप्टन और नोट्टिंघम में अपने 48 घंटों के चुनाव अभियान के दौरान कहा कि वह चाहती हैं कि जनता आतंकवादी हमलों के विरोध में वोट करें।कोर्बिन ने इस बीच स्कॉटलैंड के ग्लासगो से शुरू करके लंदन के इस्लींगटन तक छह रैलियां कीं।

इसी बीच लिबरल डेमोक्रेट नेता टिम फैरन ने मतदाताओं से उनकी पार्टी को समर्थन देकर थेरेसा को ब्रेक्सिट जैसे मुद्दों पर 'संदेश देने' का आग्रह किया।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top