भारत और मलेशिया के बीच हुए 7 समझौते

भारत और मलेशिया के बीच हुए 7 समझौतेबैठक में प्रधानमंत्री मोदी और विदेश मंत्री सुषमा शामिल  

नई दिल्ली ( आईएएनएस)। भारत एवं मलेशिया ने यहां शनिवार को प्रतिनिधिमंडल स्तरीय द्विपक्षीय वार्ता के बाद नागरिक उड्डयन व मानव संसाधन विकास सहित सात समझौतों पर हस्ताक्षर किए।

बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने की। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तथा मलेशिया के परिवहन मंत्री लियो तियोंग ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किया है, जो दोनों देशों के बीच हवाई यात्रा सेवा को बढ़ावा देगा। मलेशिया में यूरिया एवं अमोनिया विनिर्माण संयंत्र के प्रस्तावित विकास तथा अतिरिक्त यूरिया को मलेशिया से भारत लाने के लिए सहयोग को लेकर एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इसके अलावा, खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों, खेल के नियम व प्रशिक्षण पाठ्यक्रम के आदान-प्रदान के माध्यम से खेल के क्षेत्र में सहयोग को लेकर भी एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। इंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट अहमदाबाद तथा मलेशियन ह्यूमन रिसोर्स फंड के बीच एक समझौता हुआ, जिसके मुताबिक, ईडीआईआई प्रशिक्षण तथा अन्य क्षमता निर्माण कार्यक्रमों को अंजाम देगा। शैक्षणिक योग्यताओं को परस्पर मान्यता देने को लेकर एजेंसी के बीच भी एक समझौता हुआ है। पांचवां समझौता पॉम ऑयल के क्षेत्र में प्रौद्योगिकी विकास में सहयोग को लेकर मलेशियन पॉम ऑयल बोर्ड तथा भारत के इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी के बीच एक समझौता हुआ।

छठा समझौैता एमआईजीएचटी टेक्नोलॉजी मलेश्यिा तथा आंध्र प्रदेश इकोनॉमिक डेवलपमेंट बोर्ड के बीच हुआ है, जिसका उद्देश्य आंध्र प्रदेश में चौथी पीढ़ी के पार्क का क्रियान्वयन करना है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

First Published: 2017-04-02 15:47:03.0

Share it
Share it
Share it
Top