गाँव-गाँव पहुँच रही बिजली, लोगों में बढ़ रहा उत्साह: मोदी

गाँव-गाँव पहुँच रही बिजली, लोगों में बढ़ रहा उत्साह: मोदीगाँव कनेक्शन

नई दिल्ली सत्ताइस दिसम्बर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो पर मन की बातकार्यक्रम में देशवासियों को संबोधित किया व क्रिसमस और नए वर्ष की शुभकामनाएं दीं। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत सरकार और राज्य सरकारों का ऊर्जा विभाग काम तो पहले भी करता था लेकिन जब से गांवों में बिजली पहुँचाने संकल्प किया है, हर दिन जब ख़बर आती है कि आज उस गाँव में बिजली पहुँची, आज उस गाँव में बिजली पहुँची। साथ-साथ उस गाँव के उमंग और उत्साह की ख़बरें भी आती हैं। अभी तक व्यापक रूप से मीडिया में इसकी चर्चा नहीं पहुँची है लेकिन मुझे विश्वास है कि मीडिया ऐसे गांवों में ज़रूर पहुंचेगा और वहाँ का उत्साह-उमंग कैसा है उससे देश को परिचित करवाएगा। उसके कारण सबसे बड़ा लाभ यह होगा कि सरकार के जो मुलाज़िम इस काम को कर रहे हैं, उनको संतुष्टि मिलेगी कि उन्होंने कुछ ऐसा किया है जो किसी गाँव की, किसी की ज़िंदगी में बदलाव लाने वाला है।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने मन की बात में शारीरिक रूम से अक्षम लोगों को नया नाम दिया। उन्होंने कहा कि शारीरिक रूप से अक्षम लोगों के लिए 'दिव्यांग' शब्द का इस्तेमाल किया जाए। जिन लोगों को ईश्वर ने कोई अंग नहीं दिया है, उन्हें कोई विशेष शक्ति जरूर दी है।उन्होंने आगे कहा कि सुगम्य भारत अभियान के तहत भौतिकी और वास्तविक बुनियादी ढाँचे में सुधार कर उन्हें दिव्यांग लोगों के लिए सुगम्य बनाया जाएगा 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत एक ऐसा देश है,जहां पर फेस्टिवल ड्रिवेन इकॉनॉमी’ (त्यौहार आधारित अर्थव्यवस्था)है। उन्होंने कहा कि पुणे से गणेश सावलेशवारकर ने लिखा है कि यह सीज़न पर्यटन का सीज़न होता है। इस समय बड़ी संख्या में देश-विदेश के पर्यटक आते हैं उन्होंने कहा कि टूरिस्ट डेस्टिनेशन, टूरिस्ट प्लेस, यात्रा धाम, प्रवास धाम, जैसे जगहों पर स्वच्छता पर ध्यान देना चाहिये।

प्रधानमंत्री मोदी ने मध्य प्रदेश के भोजपुरा गाँव के एक कारीगर दिलीप सिंह मालविया को बिना मेहनताने के शौचालय बनाने के लिए धन्यवाद किया। अगर कोई मटेरियल प्रोवाइड करता है तो दिलीप सिंह शौचालय बनाने की मज़दूरी नहीं लेते है। वे अबतक 100 शौचालयों का निर्माण कर चुके हैं। उन्होनें आगे कहा कि स्वच्छता की बात एक प्रकार से घर-घर में गूंज रही है। नागरिकों का सहभागिता भी बढ़ती जा रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 12 जनवरी विवेकानंद जयंती को नेशनल यूथ फेस्टिवल के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष यह फेस्टिवल 12 से 16 जनवरी तक रायपुर में होने वाला है, जिसकी थीम 'इन्डियन यूथ: ऑफ़ डेवलपमेंट स्किल एंड हारमनी' है। हिंदुस्तान के कोने-कोने से, 10,000 से ज़्यादा युवा इकट्ठे होंगे। उन्होंने आगे कहा कि 16 जनवरी 2016 को भारत सरकार स्टार्टअप इंडिया’,स्टैंड अप इंडियाका एक्शन प्लान लॉन्च करने वाली है। इस कार्यक्रम में आईआईटी,आईआईएम,सेंट्रल यूनिवर्सिटी, एनआईटी को लाइव कनेक्टिविटी के द्वारा जोड़ा जाएगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि क्या हम 26 जनवरी को हमारे शहर में जितनी भी महापुरुषों की प्रतिमायें हैं, उसकी और उस परिसर की सफाई सुनिश्चित कर सकते है? उन्होंने आगे कहा कि मतदान के समय तो कर्तव्य की बात बहुत होती है लेकिन क्यों न सहज जीवन में भी कर्तव्य की बातें हों। इस वर्ष हम बाबा साहेब अम्बेडकर की जयंती पर कर्तव्यविषय पर निबंध स्पर्द्धा, काव्य स्पर्द्धा,वक्तत्व स्पर्द्धा कर सकते हैं क्या? उन्होंने आम जनता से कहा कि आप 26 जनवरी के पहले कर्तव्यविषय पर काव्य रचनाएँ, निबंध लिख कर mygov.in पर भेजें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top