वाराणसी: एक गलत खबर से परेशान हो गए थे इस गांव के किसान

वाराणसी। बीते दिनों शहर से सटे गंगा किनारे रमना गांव के किसानों के बारे में एक खबर छपी थी। जिसे पढ़कर गांव के किसान परेशान हो गए थे। हालांकि बाद में जब इसके बारे में जांच की गई तो पता चला की खबर गलत है।

दरअसल, वाराणसी के लंका थाना क्षेत्र के रमना गांव में किसानों 26 जून का दैनिक अखबार देखा तो उनके माथे पर चिंता की लकीर खींच गयी। उसके मुख्य पृष्ठ पर छपा था कि रमना के किसान सब्जी की पैदावार से 20 करोड़ रुपये साल के करोबार कर रहे हैं। इस गांव में छोटे-बड़े सभी किसान पूरी शान से अपना घर चला रहे हैं। जिसके पास पांच बिस्वा भी खेत है, वह भी सब्जी की खेती कर आराम से अपना घर चला लेता है। इस गांव में मात्र सब्जी की खेती से ही करीब 20 करोड़ की कमाई हो रही है।

इसे भी पढ़ें- गांव कनेक्शन सर्वे: किसानों ने कहा- मेहनत मेरी, फसल मेरी, तो कीमत तय करने का अधिकार भी मेरा हो

इस बात का पता लगाने जब गांव कनेक्शन की टीम रमना गांव पहुंची तो जो हकीकत सामने आई वो हैरान कर देने वाली थी। ग्रामीण किसानों ने बताया कि यह खबर झूठी है और वास्तविकता तो यह है कि यहां के किसान खेती से किसी प्रकार जीवन चला पा रहे है।

दरअसल, यह गांव बाढ़ पीड़ित भी है जिसके कारण हर साल यहां के किसानों की पैदावार नष्ट हो जाती है और इन्हें नुकसान उठाना पड़ता है। ऐसे में किसी प्रकार घर का खर्च चल पा रहा है। ग्राम प्रधान अमित पटेल भी बताते हैं कि यह खबर पूरी तरह से फेंक है और इसमें कोई वास्तविकता नहीं है।


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top