Gaon Radio: कभी स्कूल का मुंह न देखने वाली महिलाएं अब अंग्रेजी में अपना परिचय देती हैं

Gaon Radio: कभी स्कूल का मुंह न देखने वाली महिलाएं अब अंग्रेजी में अपना परिचय देती हैं

बिहार के पूर्णिया के इस गाँव में महिलाएं आजकल हर हाल में शाम तक चौका-बर्तन कर लेती हैं। क्योंकि शाम को उन्हें पाठशाला भी जाना होता है। वे महिलाएं जो बचपन में नहीं पढ़ सकीं, शाम की पाठशाला उन्हें साक्षर बना रहा है। नयी बहुएं हों या दादी, पाठशाला में हर उम्र की महिलाएं पढ़ने आती हैं। गाँव रेडियो में सुनिए शाम की पाठशाला की कहानी

शाम की पाठशाला: कभी स्कूल का मुंह न देखने वाली महिलाएं महिलाएं अब अंग्रेजी में बताती हैं नाम


Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.