उत्तर प्रदेश के लखीमपुर की तीन चीनी मिलों ने किसानों को किया गन्ने के बकाये का भुगतान

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   24 Nov 2016 12:17 PM GMT

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर की तीन चीनी मिलों ने किसानों को किया गन्ने के बकाये का भुगतानगन्ना चीन मिल भेजने की तैयारी करते किसान।

लखीमपुर खीरी (आईएएनएस)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोट बंद किए जाने के बाद से ही आर्थिक दिक्कतों से जूझ रहे किसानों को अब थोड़ी राहत मिली है। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले की तीन चीनी मिले अजवापुर चीनी मिल, कुंभी चीनी मिल और गुलरिया चीनी मिल ने इस सत्र में खरीदे गए गन्ने के 51 करोड़ रुपए का गन्ना किसानों को भुगतान कर दिया है।

एक गन्ना अधिकारी ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। अधिकारियों के मुताबिक, चीनी मिलों ने 51 करोड़ 90 लाख 59 हजार रुपए किसानों के खाते में भेज दिए हैं। पिछले पांच वर्षों में यह पहला मौका है, जब किसानों को एक सप्ताह में ही भुगतान हुआ है। अन्य चीनी मिलें भी जल्द ही भुगतान करेंगी।

जिले की तीन चीनी मिलों ने बुधवार को ही किसानों के बैंक खातों में इस सत्र में खरीदे गए गन्ने का भुगतान भेजा है। इनमें अजवापुर चीनी मिल ने 12 करोड़ सात लाख 49 हजार रुपए का भुगतान भेजा है। कुंभी चीनी मिल ने 18 करोड़ 52 लाख 66 हजार रुपए किसानों के खातों में भेजे हैं, जबकि गुलरिया चीनी मिल ने सबसे ज्यादा 21 करोड़ 30 लाख 44 हजार रुपए का भुगतान कर दिया है।
जगदीश चन्द यादव जिला गन्ना अधिकारी

उन्होंने बताया कि खास बात यह है कि सरकार ने जो नया रेट घोषित किया है, उसके हिसाब से पूरा भुगतान किया गया है।

जगदीश चन्द यादव ने बताया कि जल्द ही बजाज की चीनी मिलें और ऐरा चीनी मिल भी भुगतान करेंगी। मिल अधिकारियों से बराबर सम्पर्क किया जा रहा है। प्रयास है कि किसानों का पूरा भुगतान एक सप्ताह में उनके बैंक खातों में पहुंच जाए।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top