कृषि सिंचाई परियोजनाएं वक्त पर पूरी की जाएंगी: उमा भारती

कृषि सिंचाई परियोजनाएं वक्त पर पूरी की जाएंगी: उमा भारतीgaon connection, गाँव कनेक्शन

गाँव कनेक्शन नेटवर्क

नई दिल्ली। जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री उमा भारती ने प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत ली गई 46 परियोजनाओं को वक्त से पूरा करने पर जोर दिया है।

दिल्ली में ‘स्थायी जल प्रबंधन के लिए एकीकृत दृष्टिकोण’ विषय पर आयोजित जल मंथन-2 सम्‍मेलन का उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि इनमें से 23 परियोजनाओं को पहले चरण में 2017 तक पूरा करना है जबकि बाकी की 23 परियोजनाओं को 2020 तक पूरा करना है।

उमा भारती ने संगोष्ठी में आये विशेषज्ञों से कहा कि वो इस चर्चा में मुख्य रूप से प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना और नदी जोड़ों परियोजनाओं के बारे में विचार करें। 

उमा भारती ने कहा कि अगर हमने प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के कार्यान्वयन में आने वाली कठिनाइयों को पहचानकर उनका निदान नहीं किया तो हम इसे समय से पूरा नहीं कर पायेंगे। जल संसाधन मंत्री ने कहा, ‘’मैंने मंत्रालय के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वो जलमंथन -2 में आये विभिन्न राज्यों के अधिकारियों के साथ चर्चा करके कल तक एक कार्य दल बना लें जो बीस दिन के अंदर इस बारे में मुझे रिपोर्ट सौंप दे कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई येाजना के अंतर्गत विभिन्न परियोजनाओं को समयबद्ध तरीके से कैसे पूरा किया जा सकता है।" उमा भारती ने कहा, "यदि हमने समयबद्ध तरीके से इन परियोजनाओं पर काम नहीं किया तो हम इन्हें निश्चित समय के अंदर पूरा नहीं कर पाएंगे। मैं इस कार्य योजना को लेकर प्रधानमंत्री और नीति आयोग से भी चर्चा करूंगी ताकि इसके कार्यान्वयन में आने वाली सभी अड़चनों को दूर किया जा सके"। जल संसाधन के मुताबिक़ प्रधानमंत्री चाहते हैं कि इन परियोजनाओं को हर हालत में समय पर पूरा किया जाए। उन्होंने राज्यों से यह भी कहा कि वो इन 46 परियोजनाओं में पूरा करने में आ रही किसी भी आर्थिक दिक्कतों से केंद्र को बताएं ताकि उनका वक्त रहते हल निकाला जा सके। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top