मौनी अमावस्या पर सवा करोड़ श्रद्धालुओं ने संगम में लगाई डुबकी

मौनी अमावस्या पर सवा करोड़ श्रद्धालुओं ने संगम में लगाई डुबकीgaon connection, mauni amavasya

इलाहाबाद। मौनी अमावस्या स्नान पर्व पर पुण्य लाभ अर्जित करने के लिए त्रिवेणीतट पर श्रद्धालुओं का रेला उमड़ पड़ा। संगम सहित सभी घाटों पर स्नानार्थियों की भीड़ लगी रही।

मेला प्रशासन के मुताबिक देर शाम तक सवा करोड़ श्रद्धालुओं ने स्नान किया। मुख्य स्नान पर्व के कारण मेला क्षेत्र में पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए थे। सुरक्षा व्यवस्था के लिए आरएएफए डोम माउन्टेन्शन, सर्विलांस व्हीकल के द्वारा सतत् निगरानी एवं मेले में आने वाली अपार भीड़ पर निगाह रखी गयी। जिलाधिकारी संजय कुमार एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक केएस इमैनुएल समेत सभी वरिष्ठ अधिकाारी दिन भर स्नान घाटों का भ्रमण कर साधु-संतो, तीर्थयात्रियों और स्नानार्थियो से मिलकर मेला व्यवस्था के सम्बन्ध में पल-पल की जानकारी लेते रहे है। मौनी अमावस्या के अवसर पर स्नान के दौरान जो श्रद्धालु अपने परिवार जनों से भटक गये थे, उन्हें भूले-भटके शिविरों के माध्यम से लोगों को अपने परिजनों से मिलाया गया।

रविवार को ही पूरा मेला क्षेत्र श्रद्धालुओं से भर गया था। रात से ही लोगों ने स्नान भी शुरू कर दिया। भोर में चार बजे से भीड़ बढ़ने लगी। सुबह पांच बजे तो संगम पर भीड़ इतनी अधिक हो गई कि श्रद्धालुओं को दूसरे घाटों की तरफ मोड़ दिया गया। सभी पांच पांटून पुलों से लोग संगम पहुंच रहे थे। पुलों पर भी दिन भर लोगों की कतार लगी रही। इन पुलों के पास बने घाटों पर भी लोग डुबकी लगाते रहे। 12 बजे के बाद पहुंचने वालों को संगम घाट पर स्नान करने में कोई दिक्कत नहीं हुई। संगम सहित सभी स्नान घाटों पर देर शाम तक नहाने वालों का तांता लगा रहा। मेला प्रभारी हरिओम शर्मा ने बताया, ''शाम पांच बजे तक संगम सहित 17 घाटों पर 1.25 करोड़ श्रद्धालुओं ने स्नान किया। कोई अप्रिय घटना नहीं हुई।"

एक नजर

1.25 करोड़ लोगों ने लगाई डुबकी

17 घाटों पर हुआ स्नान

25 एम्बुलेंस तैनात रहीं

30 सीसीटीवी कैमरों की नज़र में रहा पूरा मेला 

5 पांटून पुलों पर लगे थे 10 कैमरे

141 किमी पाइप लाइन जलापूर्ति के लिए

17 बिजली उपकेन्द्र पावर सप्लाई के लिए

172 गैंग दैनिक सफाईकर्मी रहे तैनात 

रिपोर्टिंग - आकाश द्विवेदी

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top