नौकरी देने के नाम पर छात्रा से ठगी और रेप

नौकरी देने के नाम पर छात्रा से ठगी और रेपgaoconnection

लखनऊ।मुजफ्फरनगर की छात्रा को लखनऊ में नौकरी दिलाने के बहाने जालसाज़ो ने चार लाख रुपए ठग लिए। इतना ही नहीं कठौता झील के पास उससे रेप करने के बाद अश्लील वीडियो बनाकर शिकायत करने पर वीडियो वायरल करने की धमकी भी दी। एक महीने से छात्रा मुजफ्फरनगर से लखनऊ तक चक्कर काट रही है। एसएसपी कार्यालय पहुंची छात्रा ने बताया कि मार्च महीने में वो नौकरी के संदर्भ में स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन से मिलने उनके आवास पर गई थी लेकिन मंत्री के मौजूद नहीं होने पर वो इंतजार करने लगी। इसी बीच एक अज्ञात व्यक्ति उसके पास पहुंचा और स्वयं को मंत्री का पीआरओ बताते हुये अपना नाम आरपी तिवारी बताया। छात्रा ने बताया कि उसने आने का कारण पूछा तो उसने नौकरी के बारे में बताई। आरपी तिवारी ने बताया कि नौकरी मिल जायेगी लेकिन इसके लिये समाजवादी पार्टी के फंड में पांच लाख रुपए जमा करना पड़ेगा। 

छात्रा ने गरीबी का हवाला दिया तो आरपी ने कहा कि वह मंत्री से बात कर एक लाख रूपये ही कम करा सकता है। चार लाख रूपये देने होंगे। छात्रा इसके बाद घर चली आई और रिश्तेदारों से कर्ज तथा जुलरी बेचकर रूपयों का इंतजाम की। रूपये लेकर वह बताये गये पते पर 25 मार्च 2016 को गोमतीनगर में मौजूद यशोधरा ग्रुप कार्यालय मकान नम्बर 177 विनीत खंड निकट जयपुरिया कालेज के पास पहुंची। छात्रा ने आगे बताया कि काफी देर तक इंतजार करने के बाद रात नौ बजे के लगभग आरपी तिवारी आया और कहा कि चलो कठौता झील के पास स्थित अपने मकान पर मंत्री जी बैठे हुये हैं। 

आरपी तिवारी ने छात्रा को कार में बैठा लिया। कार में पहले से दो लोग मौजूद थे। रोते हुये छात्रा ने कहा कि कठौता झील के पास एक मकान में ले जाकर पिस्टल तानते हुये उससे रुपये ले लिये गये। इसके बाद उसके साथ आरपी तिवारी ने रेप किया जबकि उसके साथियों ने वीडियो क्लीप बनाई। इतना ही नहीं शिकायत करने पर विडियो क्लिप वायरल करने की धमकी दी गई। इस मामले में जब उसने मुजफ्फरनगर पुलिस से शिकायत की तो पुलिस ने लखनऊ का मामला बताकर पल्ला झाड़ लिया। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top