BJP का खुमार उतार देगी मुलायम की रैली: अफजाल 

BJP का खुमार उतार देगी मुलायम की रैली: अफजाल अफजाल अंसारी 

लखनऊ (भाषा)। हाल ही में अपने कौमी एकता दल का सत्तारुढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) में विलय करने वाले अफजाल अंसारी का कहना है कि BJP का मंसूबा SP के गढ़ में सेंध लगाने का है, लेकिन आगामी 23 नवम्बर को गाजीपुर में होने जा रही SP मुखिया मुलायम सिंह यादव की रैली के बाद उसे जमीनी हकीकत का अंदाजा हो जाएगा।

अंसारी ने कहा कि पिछली 14 नवम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गाजीपुर के आरटीआई मैदान में हर लिहाज से असफल रैली को सम्बोधित किया था। पूर्वांचल में राजनीतिक सत्ता पर कब्जा करने का मंसूबा लिये BJP के नेताओं के लिये यह एक बड़ा झटका है, जिसे वे दबे लहजे में ही सही, लेकिन स्वीकार कर रहे हैं। अब 23 नवम्बर को इसी मैदान पर SP मुखिया मुलायम सिंह यादव ऐतिहासिक रैली के जरिये अपने चुनाव अभियान का आगाज करेंगे। इस रैली के बाद भाजपा को क्षेत्र में अपनी हैसियत का अंदाजा हो जाएगा।

उन्होंने दावा किया कि पूर्वांचल में जनसमर्थन के हिसाब से मुलायम और मोदी के बीच कोई तुलना नहीं है। मोदी का गाजीपुर में कुछ नहीं है। मोदी की रैली में अपेक्षा के लिहाज से 40 प्रतिशत भीड़ भी नहीं आयी थी। मुलायम की रैली मोदी की रैली के मुकाबले बहुत बड़ी होगी। इस रैली को लेकर किसानों, गरीब तबके के लोगों और नौजवानों में काफी उत्साह है।

अंसारी ने बताया कि सपा मुखिया मुलायम पूर्वांचल को पहले भी तवज्जो देते रहे हैं। वह हमेशा कहते रहे हैं कि इटावा के बाद गाजीपुर उनका घर है। अपने चुनावी अभियान की शुरआत के लिये गाजीपुर को चुनकर उन्होंने यह साबित भी किया है। वहां की अवाम में भी उनके प्रति मुहब्बत जाहिर करने का उत्साह है।

उन्होंने बताया कि इस बार भाजपा ने पूर्वांचल फतह करने के लिये काफी जोर लगाया है। यह मानते हुए जोर लगाया है कि यह मुलायम का गढ है। अब जाहिर सी बात है कि कोई दूसरा घुसपैठ करना चाहता है तो आदमी अपनी फस्लों की रखवाली के लिये मुस्तैद हो जाता है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top