सावधानः ब्रेड खाने से हो सकता है कैंसर

सावधानः ब्रेड खाने से हो सकता है कैंसरgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। दिल्ली में ब्रेड के नमूनों में कैंसर पैदा करने वाले रसायन मिले हैं। यह बात एक अध्ययन में सामने आयी है, जिसके बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जांच का आदेश दिया है।

सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायर्नमेंट (सीएसई) की रिपोर्ट में कहा गया है कि जांच में प्रीमियम ब्रेड के सामान्य रुप से उपलब्ध 38 ब्रांड में से 84 प्रतिशत में पोटैशियम ब्रोमेट और पोटैशियम आयोडेट पाया गया। पोटैशियम ब्रोमेट और पोटैशियम आयोडेट कई देशों में प्रतिबंधित है क्योंकि इसे जनस्वास्थ्य के लिए खतरनाक माना गया है।''

इसमें दावा किया गया है कि उसमें से एक रसायन 2-बी श्रेणी का कार्सिनोजेन है, दूसरे से थॉयराइड विकार हो सकते हैं लेकिन भारत में इसका इस्तेमाल प्रतिबंधित नहीं किया गया है। सीएसई की प्रदूषण निगरानी प्रयोगशाला ने दिल्ली के लोकप्रिय फास्ट फूड आउटलेट्स से सामान्य रुप से उपलब्ध 38 ब्रांड के पैकिंग से पहले के ब्रेड, पाव और बन तथा बर्गर ब्रेड और तैयार पिज्जा ब्रेड की जांच की।

सीएसई के उप महानिदेशक चंद्र भूषण ने कहा, ‘‘हमें 84 प्रतिशत नमूनों की जांच में पोटैशियम ब्रोमेट या आयोडेट मिले हैं। हमने कुछ नमूनों में पोटैशियम ब्रोमेट या आयोडेट की मौजूदगी की बाहरी तीसरे पक्ष की प्रयोगशाला से पुन: जांच करायी है। हमने लेबलों की जांच की और उद्योग एवं वैज्ञानिकों से बात की है।''      

उन्होंने कहा, ‘‘हमारा अध्ययन पोटैशियम ब्रोमेट या आयोडेट के व्यापक इस्तेमाल के साथ ही तैयार उत्पाद में पोटैशियम ब्रोमेट या आयोडेट की मौजूदगी की पुष्टि करता है।'' 

सीएसई रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया जताते हुए स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने कहा, ‘‘हमें मामले की जानकारी है। मैंने अपने अधिकारियों से कहा है कि वे तात्कालिक मुझे रिपोर्ट दें। घबराने की कोई ज़रुरत नहीं है। बहुत जल्द हम रिपोर्ट लाएंगे।'' अध्ययन से पता चला कि 84 प्रतिशत (38 नमूनों में से 32) में 1.15 से 22.54 पार्ट्स पर मिलियन (पीपीएम) पोटैशियम ब्रोमेट या आयोडेट मिला।

सीएसई ने कहा, ‘‘लगभग सभी शीर्ष ब्रांड के सैंडविच ब्रेड, पाव, बन और सफेद ब्रेड में पोटैशियम ब्रोमेट या आयोडेट के उच्च स्तर मिले हैं।'' सीएसई ने खाद्य नियामक एफएसएसएआई से पोटैशियम ब्रोमेट या आयोडेट के इस्तेमाल को तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित करने का को कहा है।

Tags:    India 
Share it
Top