21 हजार युवाओं ने देश के जवानों के नाम लिखे संदेश

21 हजार युवाओं ने देश के जवानों के नाम लिखे संदेशयुवाओं ने देश के जवानों के नाम लिखे 21 हजार पत्र।

स्वयं प्रोजेक्ट

अकबरपुर (कानपुर देहात)। "आज मैं बहुत खुश हूँ क्योंकि आज मैंने अपने भाई के लिये एक सन्देश लिखा है। ये वो भाई है जो सरहद पार दिन-रात खड़े होकर हमारी हिफ़ाजत करता है।" ये शब्द है रूचि पाल के। कानपुर देहात जिले के 10 ब्लॉक के 21 हजार युवाओं ने मिलकर देश की सुरक्षा करने वाले सैनिकों के लिये 21 हजार ख़त लिखकर आज प्रदर्शित किये। नये वर्ष के आगमन पर ये ख़त माननीय प्रधानमंत्री जी और रक्षा मंत्रालय की सहायता से उन सैनिकों तक पहुँचे, ऐसी इन युवाओं की कोशिश है।

प्रधानमंत्री को किए टि्वट

इस प्रस्ताव को पास कराने के लिये इन युवाओं ने प्रधानमंत्री के टिवट्र अकाउंट पर अब तक 500 से ज्यादा वीडियो ट्वीट किये हैं और उनसे ये अनुरोध किया है कि कानपुर देहात के युवाओं और बच्चों की मदद करें, उनके लिखें खतों को सैनिकों तक पहुंचा दें।

मुहिम को ले जाएंगे आगे

कानपुर देहात जिले के अकबरपुर कस्बे के निवासी और "सन्देश टू सोल्जर" के राष्ट्रीय समन्यवक रजत गुप्ता बताते हैं कि इस वर्ष दीपावाली पर माननीय प्रधानमंत्री जी ने देश के युवाओं से ये अपील की थी कि "सन्देश टू सोल्जर" मुहिम के अंतर्गत सभी देशवासी देश के सैनिकों के लिए एक दिया जलायें। वो आगे बताते हैं कि दीपावाली पर जब इन सैनिकों के लिए दिए जले तो मैंने ये निश्चय किया कि इस मुहिम को हम कानपुर देहात के युवाओं के साथ मिलकर और आगे ले जायेंगे।

एक लाख संदेश पूरा करने का लक्ष्य

27 नवम्बर 2016 को शुरू हुए इस अभियान को पूरा करने के लिए रजत की तरह 300 युवा साथी सक्रिय रूप से 10 ब्लॉक में अब तक 21 हजार सन्देश 21 हजार युवाओं से लिखा चुके हैं। जनवरी 2017 तक इन संदेशों को एक लाख तक पूरा करना इन युवाओं का उद्देश्य है।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top