चुनावी रैली करने के लिए मोबाइल ऐप पर करना होगा आवेदन

चुनावी रैली करने के लिए मोबाइल ऐप पर करना होगा आवेदनभारत निर्वाचन आयोग।

अजय मिश्र

कन्नौज। चुनाव आयोग ने फैसला किया है कि वोट प्रतिशत बढ़ाने के लिए बूथों तक दिव्यांगों को पहुंचाने की सुविधा मुहैया कराई जाएगी। इसके अलावा दो नए ऐसे मोबाइल ऐप लांच किए हैं जिसके जरिए राजनीतिक दल, प्रत्याशी और आम जनता शिकायत, रैली और सभा की अनुमति आदि की प्रक्रिया पूरी करेंगे। इन ऐप का नाम है ‘सुविधा‘ और ‘समाधान‘।

जिले की तीनों विधानसभाओं में पेंशन पाने वाले 10,885 मतदाता चिहिन्त किए गए हैं। उनको बूथों तक ले जाने के लिए ट्राई साइकिल या सहयोगी आदि की सुविधाएं दी जाएंगी। उन्होंने बताया कि जिले में होर्डिंग और बैनर हटाने का अभियान तेजी से चल रहा है। इसका व्हाटसएप ग्रुप भी बना दिया गया है। हर रोज फोटो आ रही हैं, उनको निर्वाचन आयोग को भेजा जा रहा है। हजारों की संख्या में बैनर, होर्डिंग और पोस्टर आदि हटाए जा चुके हैं। इसके लिए जनता की प्रापर्टी, सरकारी भवन और निजी भवन पर निशाना है।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि ‘सुविधा‘ नाम से एप को लोग यूपी सीईओ की बेबसाइट से लोड कर सकते हैं। इसके जरिए राजनीतिक दल और प्रत्याशी रैली व सभा की अनुमति के लिए एनओसी ले सकेंगे। ‘समाधान‘ नाम का एप पर प्रत्याशी और आमजनता अपनी शिकायतें दर्ज करा सकेंगे।

90 फीसदी शस्त्र लाइसेंस जमा होंगे

एसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि चुनाव में जो भी लोग व्यवधान डालेंगे उनके खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी। 90 फीसदी तक शस्त्र लाइसेंस जमा कराए जाएंगे। विशेष परिस्थितियों में जमा न होने वाले शस्त्र लाइसेंस के लिए अनुमति लेनी होगी। गैरजमानती वारंटी, अवैध शराब और अवैध असलहे का कारोबार करने वालों के खिलाफ भी अभियान चलाकर कार्रवाई होगी।

टोल फ्री नंबर पर करें शिकायत

उप जिला निर्वाचन अधिकारी संतोष कुमार वैश्य ने बताया कि टोलफ्री नंबर 05694-236467 भी जारी कर दिया गया है। इस नंबर से लोग जानकारी और शिकायत कर सकेंगे।

ये बनी निगरानी को टीमें

आदर्श आचार संहिता का पालन कराने के लिए नौ-नौ वीडियो निगरानी टीमें, उड़नदस्ता टीमें, स्थाई निगरानी टीमें, एक मीडिया प्रमाणन एवं अनुवीक्षण समिति, तीन वीडियो अवलोकन टीम, एक व्यय अनुरक्षण टीम, तीन लेखा टीम और एक व्यय अनुवीक्षण नियंत्रण कक्ष व काल सेंटर बने हैं।

तीनों विधानसभाओं में 11.52 लाख मतदाता

विधानसभा चुनाव में जिले की तीनों विधानसभा में इस बार 11,52,480 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। कन्नौज सदर विधानसभा क्षेत्र में 3,85,145 मतदाता, तिर्वा में 3,46,374 और छिबरामऊ में 4,20,961 मतदाता हैं। पूरे जिले में 114 सेक्टर बनाए गए हैं। 1,343 मतदेय स्थल बनाए गए हैं। कुल 12 जोन में सभी को बांटा गया है। किन्नर मतदाताओं की संख्या 31 है।

24 से नामांकन

जिले की तीनों विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन 24 से 31 जनवरी तक होंगे। दो फरवरी को जांच होगी। चार फरवरी को वापसी और 19 को मतदान होगा। मतगणना 11 मार्च को कराई जाएगी। पूरी प्रक्रिया कलक्ट्रेट सभागार में होगी।

25 जनवरी को करेंगे जागरूक

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि 25 जनवरी को स्वीप के तहत लोगों को मतदान के लिए जागरूक किया जाएगा। नए मतदाताओं को रंगीन पहचान पत्र भी बांटे जाएंगे।

नए काम पर रोक पुराने चलते रहेंगे

प्रेसवार्ता में यह भी बताया गया कि नए काम कोई नहीं होंगे। पुराने काम चलते रहेंगे। उन्होंने बताया कि जो काम पहले शुरू हो चुके हैं और बजट जारी हो चुके हैं, उन पर रोक नहीं है। प्रत्याशी की खर्च सीमा 28 लाख रखी गई है। रैली, सभा या जुलूस के लिए परमीशन लेनी होगी। गाड़ियों के लिए भी अनुमति की जरूरत पड़ेगी। बिना इसके गाड़ी सीज कर दी जाएगी।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top