विकास से अछूता रह गया लोहिया समग्र गाँव 

विकास से अछूता रह गया लोहिया समग्र गाँव ऐसा है गाँव का हाल।

कम्यूनिटी जर्नलिस्ट: प्रशांत श्रीवास्तव

श्रावस्ती। श्रावस्ती जिले के हरिहरपुरानी विकास क्षेत्र के समग्र लोहिया ग्राम अमवा की हालत बहुत ही दयनीय स्थिति में है। हालत यह है कि सरकार की इस अनदेखी की वजह से ग्रामीणों का प्रदेश सरकार व जिला प्रशासन से मोह भंग होता दिखाई दे रहा है।

अब तक गाँव में नहीं बनी नालियां

ग्राम पंचायत के मजरे कोडरी निवासी 20 वर्षीय संदीप कुमार मिश्र बताते हैं,'' हमारा गाँव कहने को तो लोहिया गाँव है, पर यहां सुविधाओं के नाम पर कुछ नहीं हुआ है। प्रधान अपने गाँव में तो विकास करवाते हैं पर दूसरे मजरे के लिए कुछ भी अच्छा नहीं सोचते हैं। गाँव मे अब तक नाली का निर्माण नहीं हो सका है।''

कहते हैं, वोट नहीं दिया

ग्रामीणों के अनुसार चुनाव से पहले ग्राम प्रधान से हम सभी ने नाली निर्माण के लिए कहा था। लेकिन अब वो यह कहते हैं कि इस गाँव के लोगों ने मुझे चुनाव में वोट नही दिया है तो नाली का निर्माण कराने की मांग क्यों कर रहे हैं? जिसे आपने वोट दिया है उसी से नाली भी बनवा लीजिए।

शौचालय का भी नहीं हुआ निर्माण

पंचायत के दूसरे मजरे के निवासी पंचम आर्य (50 वर्ष) ने बताया कि सरकार द्वारा सभी गरीबों को दिए जाने वाले शौचालय हम ग्रामीणों को नसीब नहीं हुए हैं। जब हम ग्राम प्रधान से कहते हैं कि शौचालय निर्माण कब से शुरू होगा? तो वे कहते हैं कि हम बहुत जल्द शौचालय बनवा देंगे।

बीमारियों को खतरा

पंचायत में विकास ना होने के कारण गाँवों मे नाली न बनने से आए दिन गाँव मे लड़ाई-झगड़े की नौबत बनी रहती है और गाँव में घरों के नल का पानी बाहर रास्तों पर जमा हो जाता है, जिससे गाँव मे तमाम तरह की बीमारी फैली रहती है।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Share it
Share it
Top