अखिलेश ने रथ यात्रा निकालने का ऐलान किया, सपा के रजत जयंती समारोह पर चुप्पी साधी

अखिलेश ने रथ यात्रा निकालने का ऐलान किया, सपा के रजत जयंती समारोह पर चुप्पी साधीउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।

लखनऊ। सपा के लिए कहें या अपने लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तीन नवंबर को समाजवादी विकास रथ लेकर चुनाव प्रचार अभियान में आखिरकार उतर पड़ेंगे। सपा कुनबे में छिड़े विवाद के चलते एक महीना विलंब से ये यात्रा शुरू होगी। इससे एक बात और स्पष्ट है कि पांच नवंबर को होने वाले सपा के रजत जयंती समारोह के दौरान शायद ही सीएम राजधानी में हों।

सीएम अखिलेश की ओर से पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव को रथयात्रा की औपचारिक जानकारी दे दी गई है मगर रजत जयंती समारोह के मुद्दे पर सीएम शांत हैं। उन्होंने समारोह में भाग लेने के बारे में कोई टिप्पणी नहीं की। विशेषतौर पर एक लग्जरी बस को रथ का स्वरूप दिया गया है। जिस पर सवार होकर सीएम तीन अक्टूबर से राज्य भर में समाजवादी विकास यात्रा पर निकलने वाले थे, मगर सपा में हुए बवाल को लेकर ये यात्रा शुरू ही नहीं हो पाई थी। इसलिए इसको लेकर अब तीन नवंबर की तारीख निकाली गई है।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सभी राजनैतिक दलों ने अपना प्रचार शुरू कर दिया है। इसलिए जरूरी है कि बतौर मुख्यमंत्री अपनी सरकार के विकास को मैं राज्य भर में समाजवादी विकास रथयात्रा के जरिये पहुंचाऊंगा।

रामगोपाल और शिवपाल को दी जानकारी

अखिलेश यादव ने पत्र के माध्यम से इस बात की जानकारी राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव को और प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव को दे दी है। इसके अलावा समय समय पर जानकारी सपा के जिला एवं महानगर अध्यक्षों को भी दी जाती रहेगी।

स्वर्ण जयंती समारोह के मुद्दे पर चुप्पी

5 कालीदास मार्ग पर आयोजित एक समारोह में अखिलेश ने पांच नवंबर को होने वाले स्वर्ण जयंती समारोह को लेकर चुप्पी साध ली। उन्होंने कहा कि वे आज मीडिया को कोई खबर नहीं देंगे। देखें आप लोग क्यों दिखाएंगे और छापेंगे।

Share it
Top