यूपी विधानसभा चुनाव 2017: इन महिलाओं का रहा बोलबाला 

यूपी विधानसभा चुनाव 2017: इन महिलाओं का रहा बोलबाला इस बार यूपी विधानसभा चुनावों में करीब 96 महिला प्रत्याशियों को टिकट दिया गया जिसमें 38 को जीत मिली

लखनऊ। इस बार का उत्तर प्रदेश चुनाव कई मायनों में खास रहा। जहां कई सीटों में मोदी लहर के साथ बीजेपी ने जीत हासिल की वहीं इस बार के चुनावों में महिला प्रत्याशियों का भी काफी दबदबा रहा। इस बार यूपी विधानसभा चुनावों में करीब 96 महिला प्रत्याशियों को टिकट दिया गया जिसमें 38 को जीत मिली। इनमें सबसे ज्यादा बीजेपी ने 43 महिलाओं को प्रत्याशी बनाया जबकि 32 ने जीत हासिल की। वहीं बीएसपी और कांग्रेस से दो-दो महिला प्रत्याशी विजयी हुईं जबकि सपा और अपना दल से एक-एक। आइए जानते हैं कुछ प्रमुख सीटों में जीत हासिल करने वाली महिला प्रत्याशियों के बारे में-

गरिमा सिंह

विधानसभा सीट- अमेठी

वोट- 64226

यहां रानी बनाम रानी की लड़ाई थी लेकिन जनता ने अमेठी राजघराने की पहली रानी गरिमा सिंह को 64226 से विजयी बनाया। राजघराने के राजा कांग्रेस नेता संजय सिंह की पहली पत्नी गरिमा सिंह के प्रतिद्वंदी के रूप में राजघराने की दूसरी रानी अमिता सिंह थीं जिन्हें कांग्रेस से टिकट मिला था हालांकि जनता ने उन्हें सिर्फ 20291 वोट ही दिए। इस सीट पर दूसरे नंबर पर गायत्री प्रजापति रहे जिन्हें 59161 वोट मिले।

स्वाति सिंह

विधानसभा सीट- सरोजनीनगर

वोट- 108506

मायावती पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले विधायक दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह ने पहली बार विधानसभा चुनाव के जरिए अपनी राजनीति पारी शुरू की। दयाशंकर सिंह की विवादित टिप्पणी के बाद बसपा कार्यकर्ताओं ने विरोध में दयाशंकर की पत्नी, बेटी और मां पर काफी तीखी टिप्पणियां की थीं जिससे आहत स्वाति ने बसपा सुप्रीमो मायावती के खिलाफ हमला बोला था और बीजेपी ने उन्हें सरोजनी नगर सीट से टिकट दिया। स्वाति को यहां एक लाख आठ हज़ार वोट मिले, इसके बाद सपा से अनुराग यादव रहे जिन्हें 74327 वोट मिले।

रीता बहुगुणा जोशी

विधानसभा सीट- लखनऊ कैंट

वोट- 95402

यूपी विधानसभा चुनाव में इस बार लखनऊ कैंट सीट पर मुकाबला काफी रोमांचक था। एक तरफ पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से विजयी रीता बहुगुणा जोशी इस बार बीजेपी से चुनाव लड़ रही थीं, वहीं यादव परिवार की छोटी बहू अपर्णा यादव भी पहली बार राजनीति में अपनी किस्मत आज़मा रही थीं। मुकाबला बराबरी का था लेकिन राजनीति में अनुभ‍वी रीता को जनता ने 95402 मतों से विजयी बनाया वहीं अपर्णा 61606 मतों के साथ दूसरे नंबर पर रही।

अदिति सिंह

विधानसभा सीट- रायबरेली सदर

वोट- 128319

तीन बार कांग्रेस के टिकट पर जीतने वाले नेता अखिलेश सिंह की बेटी अदिति सिंह इस विधानसभा चुनाव में पहली बार अपने पिता की सीट पर चुनाव लड़ती नज़र आईं। विदेश से पढ़ाई करके आईं अदिति को जनता ने स्वीकार किया और करीब एक लाख अट्ठाइस हज़ार मतों से विजयी बनाया। यहां दूसरे नंबर पर बसपा के मोहम्मद शाहबाज खान रहें जिन्हें जनता ने 39156 वोट मिले।

नीलिमा कटियार

विधानसभा सीट- कल्याणपुर

वोट- 86620

भाजपा की वरिष्ठ नेता व कानपुर की कल्याणपुर सीट से कई बार विधायक रह चुकीं प्रेमलता कटियार ने इस बार अपनी सीट पर अपनी बेटी नीलिमा कटियार को उतारा था। मां और पार्टी की उम्मीदों पर खरा उतरते हुए नीलिमा ने जनता का विश्वास हासिल किया और 86620 वोट से जीतीं। इस सीट से सपा के प्रत्याशी सतीश निगम दूसरे नंबर पर रहे जिन्हें क्षेत्र में काफी विकास कार्य करवाने के बाद भी जनता ने नकार दिया।

वर्ष जीती हुईं महिला प्रत्याशी

1952 20

1985 31

1989 18

1991 10

1993 14

1996 20

2002 26

2007 3

2012 35

Share it
Top