Top

नहीं लगेगी दूसरी बैलेट यूनिट, तीन पर्चे वापस

नहीं लगेगी दूसरी बैलेट यूनिट, तीन पर्चे वापसविधानसभा भवन, लखनऊ।

अजय मिश्रा

कन्नौज। इस बार जिले की किसी भी विधानसभा क्षेत्र में दो बैलेट यूनिट नहीं लगेंगी। कारण, प्रत्याशी निर्धारित संख्या से कम हैं। साथ ही तिर्वा विधानसभा क्षेत्र से तीन पर्चे वापस ले लिए गए हैं। इस विधानसभा क्षेत्र से 16 प्रत्याशी मैदान में थे। पिछले चुनाव में 23 प्रत्याशी होने की वजह से दो बीयू लगी थीं।

19 फरवरी को होने वाले मतदान के लिए सबसे अधिक नामांकन तिर्वा विधानसभा क्षेत्र से 16 हुए थे। 17वां स्थान नोटा के लिए आरक्षित होता, अगर नामांकन पत्र वापस न होते। क्योंकि एक बीयू में अधिकतम 16 प्रत्याशियों के नाम और चिन्ह का स्थान आरक्षित होता है। शुक्रवार को नामांकन वापसी वाले दिन तिर्वा विधानसभा क्षेत्र से सपा प्रत्याशी/निवर्तमान माध्यमिक शिक्षा राज्यमंत्री विजय बहादुर पाल के पुत्र अनिल पाल ने निर्दलीय रूप से दाखिल किया पर्चा वापस ले लिया। इसी तरह भाजपा प्रत्याशी कैलाश राजपूत की पत्नी शशिबाला ने भी अपना नामांकन पत्र वापस ले लिया। इसके अलावा बसपा प्रत्याशी विजय सिंह विद्रोही के पुत्र गौरव सिंह ने भी अपनी प्रत्याशिता वापस ले ली।

इस बारे में आरओ राजेश कुमार यादव ने बताया कि उनकी विधानसभा क्षेत्र में अब 13 प्रत्याशी चुनाव मैदान में रह गए हैं। छिबरामऊ और सदर विधानसभा क्षेत्र से किसी भी प्रत्याशी ने पर्चा वापस नहीं लिया। छिबरामऊ में 14 और सदर कन्नौज में 12 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। तीन विधानसभाओं में अब कुल 39 प्रत्याशी बचे हैं।

ये हैं मैदान में

सपा से अनिल दोहरे, बसपा से अनुराग सिंह, भाजपा से बनवारी लाल दोहरे, भारतीय सुभाश सेना से कृपाराम, वोटर्स पार्टी इंटरनेशनल से दीपक दोहरे, बहुजन मुक्ति पार्टी से नीतू सिंह, अपना दल से मुकेश जाटव, जनअधिकार मंच से रामप्रकाश सिंह, वीरेंद्र, राज कठेरिया, श्रीकांत सिंह और सुनील निर्दलीय लड़ रहे हैं।

इसके अलावा छिबरामऊ विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी भाजपा से अर्चना पांडेय, सपा से अरविंद सिंह यादव, बसपा से ताहिर हुसैन सिद्दीकी, मनुवादी पार्टी से उमाशंकर, बहुजन मुक्ति पार्टी से कुसुम, भारतीय सुभाष सेना से राजेश कुमार सिंह, विवेक कुमार जनअधिकार मंच से, सुरेंद्र सिंह सबका दल यूनाइटेड से, अर्चना, आशीष, उमेश चंद्र, तस्कीन, मीरा देवी और संजीव कुमार निर्दलीय लड़ रहे हैं।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.