मुलायम ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा अखिलेश हमारे मुख्यमंत्री हैं  

मुलायम ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा अखिलेश हमारे मुख्यमंत्री हैं  समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में समाजवादी परिवार में मची कलह को सुलझाने की समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने मंगलवार को एक प्रेस कांफ्रेंस की। इस प्रेस कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव नहीं पहुंचे।

मुलायम का दावा : परिवार और पार्टी एक है

मुलायम ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमारा परिवार एक है, पार्टी एक है, सभी नेता और कार्यकर्ता एक हैं।सपा सुप्रीम मुलायम सिंह यादव ने कहा कि साजिश करने वालों के पास जनाधार नहीं है। वे सभी मुंह की खाएंगे। हमारा परिवार एक है पार्टी एक है। अखिलेश हमारे मुख्यमंत्री हैं।''

पार्टी में आपसी टकराव पर विराम देने के लिए कल बुलाई बैठक के ना सिर्फ बेनतीजा रह जाने बल्कि दोनों खेमों के बीच खाई बढ़ जाने के बाद आज सपा मुखिया मीडिया के सामने आए, अपनी बात कही और सवालों का बेबाकी से जवाब किया।

प्रेस कांफ्रेंस में मुलायम के साथ सपा प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव मौजूद थे लेकिन मुख्यमंत्री नहीं आए।

आने वाला वक्त बताएगा मुख्यमंत्री कौन होगा

अखिलेश के बारे में पूछे गए प्रश्न पर मुलायम सिंह ने कहा कि अखिलेश के सीएम पद पर किसी को आपत्ति नहीं है। अगला मुख्यमंत्री कौन होगा इसका जवाब देते हुए मुलायम सिंह ने कहा आने वाला वक्त बताएगा।मुलायम ने कहा कि बहुमत आने पर मुख्यमंत्री का फैसला होगा। फिलहाल अखिलेश मुख्यमंत्री हैं और इस पर किसी को आपत्ति नहीं है।

बर्खास्त मंत्रियों पर सीएम लेंगे फैसला

शनिवार को मंत्रिपरिषद से निकाले गए शिवपाल सहित चार मंत्रियों के भविष्य पर पूछा गया तो मुलायम ने कहा कि रही बात बर्खास्त मंत्रियों की तो इस पर मुख्यमंत्री ही अपने स्तर से निर्णय लेंगे। जहां तक शिवपाल का सवाल है, उन्होंने मंत्री पद वापस नहीं मांगा है।

अमर सिंह के बारे में उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि वह अमर सिंह को सपा से नहीं निकालेंगे। सपा से निष्कासित चचेरे भाई राम गोपाल यादव के कड़े बयानों की चर्चा की गई तो बोले कि वह राम गोपाल की बात को महत्व नहीं देते।

पार्टी-मुलायम परिवार में सब ठीक:शिवपाल

सुबह शिवपाल ने मुलायम से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा था, ‘‘पार्टी और मुलायम परिवार में सब ठीक ठाक है। मैं नेता जी के साथ हूं। वह जो भी निर्देश देंगे, हम उसका पालन करेंगे।''

इस बीच सपा मुख्यालय के बाहर आज भी तनाव का माहौल रहा और शिवपाल तथा अखिलेश के समर्थकों के बीच नारेबाजी होती रही। तनाव को देखते हुए पार्टी मुख्यालय पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है और वहां जाने वाले विक्रमादित्य मार्ग पर अवरोधक लगा दिए गए हैं।

शिवपाल आज सुबह पार्टी मुख्यालय पहुंचे और पांच नवम्बर को होने वाले पार्टी के रजत जयंती समारोह के सिलसिले में बर्खास्त मंत्री ओम प्रकाश सिंह तथा कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति से बातचीत की।













Share it
Top