धर्मनिरपेक्ष हिन्दुओं के संग चलना पसंद करेंगे मुसलमान : आजम

धर्मनिरपेक्ष हिन्दुओं के संग चलना पसंद करेंगे मुसलमान : आजमसमाजवादी पार्टी नेता आजम खान।

मुस्लिम लीडरशिप तथा स्वयं मुसलमान सेकुलर हिंदुओं के साथ चलना चाहते हैं। लेकिन ना तो हारी हुई लड़ाई लड़ना चाहते हैं ओर ना ही बेभरोसा राजनीतिक ताकत के सहयोगी बनना चाहते हैं।
आज़म खां, नगर विकास मंत्री

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 को देखते हुए राजनीतिक माहौल की गर्मा गर्मी के बीच सपा नेता आज़म खां ने मुसलमानों के हालात पर चिन्ता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि हमेशा से ही मुस्लिम समुदाय के बारे में यह अनुमान लगाना मुश्किल रहा है कि वह किस पार्टी को तवज्जो देगा।

मुस्लिमों के रुख का सही अंदाजा लगा पाना मुश्किल है। वर्तमान में राजनीतिक कलह के दौरान इस बार इसका अंदाजा लगाना और भी कठिन हो गया है। कुर्सी के लिए चल रही इस कलह के बीच आज़म खां ने भी अपने विचार रखते हुए कहा है कि देश और प्रदेश के राजनीतिक क्रम में सबसे ज़्यादा मुसलमान परेशान हैं। उन्होंने खेद व्यक्त करते हुए कहा है कि मुसलमानों का वोट किसी की जागीर नहीं है। इसके साथ ही कहा कि चुनाव को लेकर मुसलमानों की हालात पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है और फैसला लेने में अभी काफी समय है। आज़म खां ने आश्वासन देते हुए कहा है कि फैसला जो भी हो लेकिन यह सुनिश्चित किया जाएगा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार न बनने पाए। मुसलमान सभी मुद्दों पर अपना ध्यान केन्द्रित किए हुए हैं साथ ही मज़बूत राजनीतिक पकड़ वाले दल या व्यक्तित्व पर नज़र रखे हुए हैं।


Share it
Top