अखिलेश के करीबियों के टिकट कटे, दागियों पर मुलायम मेहरबान

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   28 Dec 2016 7:26 PM GMT

अखिलेश के करीबियों के टिकट कटे, दागियों पर मुलायम मेहरबानसमाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव।

लखनऊ (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 के लिए जारी समाजवादी पार्टी के 325 उम्मीदवारों की सूची में मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के करीबियों के टिकट कटे वहीं दागियों पर मेहरबान रहे।

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को पार्टी के 325 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी। मुलायम सिंह ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को तगड़ा झटका देते हुए जहां उनके कई चहेतों के टिकट काट दिए, वहीं अतीक अहमद और रामपाल जैसे लोगों को टिकट दिए। मुलायम की जारी सूची पर गौर किया जाए, तो इसमें अखिलेश की एक नहीं चली है। जिन लोगों का उन्होंने खुलेआम विरोध किया था या मंत्री पद से बर्खास्त कर दिया था, उन्हें भी सपा प्रमुख ने प्रत्याशी बनाया है।

टिकट की घोषणा होने के फौरन बाद झांसी में अखिलेश ने कहा, "जिनका भी नाम कटा है, उनके लिए नेताजी (मुलायम सिंह) से बात करेंगे। हमारे लिए जरूरी है कि समाजवादी सरकार बने। जो काम शुरू हुए हैं वह पूरे हों, लेकिन कुछ मुद्दों पर बात करना आवश्यक है।"

अखिलेश के करीबी मंत्री अरविंद सिंह गोप पर बेनी प्रसाद वर्मा भारी पड़े हैं। गोप की जगह बेनी के बेटे राकेश वर्मा बाराबंकी की रामनगर सीट से प्रत्याशी होंगे। वहीं गोप की तरह मंत्री राम गोविंद चौधरी व पवन पांडेय का भी टिकट काट दिया गया है।

गाजीपुर जिले की मोहम्मदाबाद विधानसभा सीट से मुख्तार अंसारी के भाई सिग्बतुल्लाह अंसारी को मिला टिकट मिला है। कानपुर कैंट से माफिया अतीक अहमद को टिकट दिया गया है। इन दोनों का ही अखिलेश यादव लगातार विरोध करते आ रहे थे।

यही नहीं, अखिलेश मंत्रिमंडल से बर्खास्त किए गए नारद राय और राजकिशोर को भी टिकट दिया गया है। इसके अलावा, अखिलेश द्वारा पार्टी से 6 साल के लिए निकाले गए विधायक रामपाल यादव की सपा में वापसी के साथ ही आज उन्हें बिसवां सीट से पार्टी का प्रत्याशी घोषित किया गया है।

इससे पहले, लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय में मुलायम ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि 176 सीटों पर सपा का कब्जा है, जबकि 149 सीटें ऐसी हैं, जहां सपा के विधायक नहीं हैं।

इस सूची में मंत्री राम गोविंद चौधरी, अरविंद सिंह गोप, पवन पांडेय समेत 53 विधायकों के टिकट काटे गए हैं। मुलायम ने कहा कि 78 सीटों पर विचार-विमर्श के बाद उम्मीदवारों की घोषणा की जाएगी। टिकट के लिए 4,200 लोगों ने आवेदन किया था।

मुलायम ने कहा, "403 में से आज जिन उम्मीदवारों के नाम घोषित किए गए है, उनका साक्षात्कार खुद पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रो.रामगोपाल यादव ने लिया है। अब इन नामों में कोई फेरबदल नहीं होगा।" उन्होंने कहा, "हमने जो उम्मीदवार खड़े किए हैं, वे सभी जिताऊ हैं। जनता उत्तर प्रदेश में फिर से सपा की सरकार चाहती है।"

एक साथ 325 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा पर मुलायम ने कहा कि टिकट की चाह रखने वाले पार्टी मुख्यालय का चक्कर लगा रहे थे। इसलिए हमने आज नाम घोषित कर दिए, ताकि वे अपने क्षेत्रों में जाएं और काम करें।

जारी सूची में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का भी नाम है। वह इटावा की जसवंत नगर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। अखिलेश के नाम के बारे में पूछ जाने पर मुलायम ने कहा, "वह (अखिलेश) जहां से चाहे वहां से लड़ें।

सूची में शामिल कुछ चर्चित नामों पर नजर डालें, तो रामपुर से आजम खां, हरदोई से नितिन अग्रवाल, लखनऊ के सरोजिनीनगर से शारदा प्रताप शुक्ला, लखनऊ मध्य से रविदास मेहरोत्रा, लखनऊ पश्चिम से मो.रेहान, रायबरेली की ऊंचाहार सीट से मनोज कुमार पांडे, अमेठी से गायत्री प्रसाद प्रजापति, इटावा के जसवंतनगर से शिवपाल सिंह यादव, कानपुर देहात के रसूलाबाद (आरक्षित) से अरुणा कोरी, बाराबंकी के रामनगर से राकेश वर्मा, फैजाबाद के मिल्कीपुर से अवधेश प्रसाद तथा बलिया से नारद राय को टिकट दिया गया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top