रायबरेली रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर प्रियंका गांधी का हमला, मोदी को बताया बाहरी, कहा- यूपी की मिट्टी के बने हैं राहुल-अखिलेश

रायबरेली रैली में  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर प्रियंका गांधी का हमला, मोदी को बताया बाहरी, कहा- यूपी की मिट्टी के बने हैं राहुल-अखिलेशकांग्रेस की स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी ।

रायबरेली। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तहत कांग्रेस पार्टी की रायबरेली रैली में कांग्रेस की स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि नोटबंदी कर मोदी ने महिलाओं पर अत्याचार किया। प्रियंका ने कहा कि यूपी को किसी को गोद लेने की जरूरत नहीं है।प्रियंका ने कहा कि मोदी जी ने खुद को यूपी का गोद लिया बेटा बताया। इस पर प्रियंका ने जनता से सवाल किया कि क्या यूपी को किसी को गोद लेने की जरूरत है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचार में अपनी पहली जनसभा में प्रियंका ने कहा, ‘‘मोदी जी खुद को उत्तर प्रदेश का गोद लिया हुआ बेटा बताते हैं, मैं पूछती हूं कि क्या इस प्रदेश को बाहर से किसी को गोद लेने की जरुरत है, क्या यहां नौजवान नहीं हैं, राहुल जी और अखिलेश जी के दिल में, उनकी जान में उत्तर प्रदेश है।''

हम सबकी आशा है अखिलेश जी और राहुल

उन्होंने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश को किसी बाहरी नेता की जरुरत नहीं है, यहां का एक-एक नौजवान नेता बन सकता है, यहां का एक-एक नौजवान इस प्रदेश का नया निर्माण कर सकता, नया विकास कर सकता है, यही अखिलेश जी, राहुल की और हम सबकी आशा है कि आज इस प्रदेश में एक नया दौर आए। सब मिलकर काम करें। गठबंधन को आगे बढ़ाएं, जिताएं, ताकि ये सब खोखली बातें खत्म हो जाएं।''

मालूम हो कि प्रधानमंत्री मोदी ने कल हरदोई में आयोजित चुनावी सभा में कहा था, ‘‘उत्तर प्रदेश ने मुझे गोद लिया है, यह यूपी मेरा माई-बाप है, गोद लिया हुआ बेटा होने के बावजूद यहां की स्थिति बदलना मेरा कर्तव्य बनता है, इसके लिए मुझे आपका आशीर्वाद चाहिए। भारी बहुमत से यूपी में भाजपा की सरकार बनाइए। मैं वादा करता हूं कि पांच साल के अंदर जिन समस्याओं से आप जूझ रहे हैं, उनके रास्ते खोजकर दे दूंगा।''

बछरावां विधानसभा क्षेत्र के महराजगंज कस्बे के बबुरिहा में आयोजित जनसभा में प्रियंका ने दावा किया कि सपा-कांग्रेस गठबंधन प्रदेश में विधानसभा की 300 सीटें जीत रहा है।

हमने हमेशा जोड़ने की कोशिश की

प्रियंका ने कहा, ‘‘मैं औरत हूं और मैं इस देश की करोड़ों महिलाओं की तरफ से कहना चाहती हूं कि हमने हमेशा जोड़ने की कोशिश की है, हमारी बेटियों, महिलाओं पर किसने अत्याचार किया है, नोटबंदी करके आपकी बचत को खत्म किया। मैं सिर्फ यह कहना चाहती हूं कि हमने अब बहुत से कोरे वादे सुन लिए।''

वाराणसी की जनता से पूछिए

उन्होंने कहा, ‘‘मोदी तीन साल से प्रधानमंत्री हैं, वाराणसी की जनता से पूछिए कि उन्होंने उसके लिए क्या किया। अमेठी की जनता से पूछिए कि राजीव गांधी जब प्रधानमंत्री थे तो उन्होंने जो तय किया, वह किया।''

प्रियंका ने कहा, ‘‘जो आपके लिए काम करना चाहता है, उसको पहचानिए। इस गठबंधन को मजबूत बनाइए, ताकि आगे बढ़कर यह प्रदेश मजबूत बने और इसका विकास हो।

मोदी से सवाल करते हुए प्रियंका ने प्रधानमंत्री से पूछा वाराणसी में आपने क्या किया है, अमेठी के लिए भी आपने कुछ नहीं किया। राजीव गांधी जब पीएम थे तो उन्होंने अमेठी का विकास किया था। प्रियंका गांधी ने जनता को आगाह करते हुए कहा कि मोदी के झूठे वादों के झांसें में न आएं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस, सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ गठबंधन कर चुनावी मैदान में उतरी है। बताया जाता है कि यहां सीट बंटवारे को लेकर गठबंधन के दोनों दलों में सहमति नहीं बन पाने के कारण प्रियंका के प्रचार कार्यक्रम कई बार रद्द हुए।

अब दोनों पार्टियों ने अपनी-अपनी तरफ से पांच-पांच उम्मीदवारों के नाम वापस ले लिए, जिसके बाद प्रियंका की यहां रैली होने जा रही है। कांग्रेस और सपा के बीच गठबंधन के आसार धुंधले पड़ने के समय प्रियंका कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ मुख्य वार्ताकार की भूमिका निभाने वालों में से एक थीं।

पार्टी से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि प्रियंका का नाम हालांकि पार्टी के स्टार प्रचारकों की सूची में है, लेकिन वह संभवत: खुद को अमेठी और रायबरेली तक ही सीमित रखेंगी।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी यहां 20 फरवरी को जनसभा को संबोधित करेंगी। सोनिया ने अभी तक खराब सेहत की वजह से चुनाव प्रचार से दूरी बनाए रखी थी। रायबरेली में 23 फरवरी और अमेठी में 27 फरवरी को मतदान होंगे।

Share it
Top