समाजवादी पार्टी ने कहा, गठबंधन तभी संभव जब कांग्रेस 85 सीटों पर राजी हो 

समाजवादी पार्टी ने कहा, गठबंधन तभी संभव जब कांग्रेस 85 सीटों पर राजी हो समाजवादी पार्टी का चुनाव चिन्ह साइकिल।

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर गठबंधन के तमाम कयासों के बीच सत्तारुढ़ समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस को कड़ा संदेश देते हुए आज कहा कि इस पार्टी ने चुनावी तालमेल को लेकर अब तक कोई सकारात्मक बात नहीं की है और सपा उसे कुल 403 में से केवल 85 सीटें ही दे सकती है।

सपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किरणमय नन्दा ने यहां संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी का मुख्य मकसद आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराना है, इसके लिए कांग्रेस से गठबंधन की कोशिश की गई लेकिन उसकी तरफ से अभी तक कोई सकारात्मक जवाब नहीं आया है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अगर भाजपा को परास्त होते देखना चाहती है तो उसे सपा के फार्मूले को मानना होगा। इस फार्मूले के तहत पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस जिन सीटों पर पहले या दूसरे नम्बर पर रही थी, और वे सीटें जिन पर सपा तीसरे, चौथे या पांचवें नम्बर पर रही थी, वे कांग्रेस को दे दी जाएंगी।

नन्दा ने कहा कि इस हिसाब से कांग्रेस को 54 सीटें ही मिलनी चाहिेए, लेकिन अगर वह गम्भीरता से बातचीत करे तो उसे 25-30 सीटें और दी जा सकती है। सपा कांग्रेस को अधिकतम 85 सीटें दे सकती है।

यह पूछे जाने पर कि सपा द्वारा आज घोषित 191 सीटों में में कई वे सीटें हैं, जिन पर वर्ष 2012 के पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी जीते थे, उन्होंने कहा कि अगर गठबंधन होगा तो कांग्रेस जहां जीती है, वह सीट उसे दे दी जाएगी।

Share it
Top