उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के मद्देनजर की गई नोटबंदी : नरेश अग्रवाल

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   24 Nov 2016 3:50 PM GMT

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के मद्देनजर की गई नोटबंदी : नरेश अग्रवालराज्यसभा के शीतकालीन सत्र में नोटबंदी पर अपनी बात कहते समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल।

नई दिल्ली (आईएएनएस)| समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने गुरुवार को कहा कि नोटबंदी का कदम उत्तर प्रदेश चुनावों को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। नोटबंदी पर बहस में भाग लेते हुए राज्यसभा में अग्रवाल ने कहा कि उनकी पार्टी सरकार के इस कदम का विरोध करती है। इस कदम को जल्दबाजी में उठाया गया, जिसके परिणामस्वरूप यह सफल नहीं हुआ।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) लोगों को कालेधन के खिलाफ मामले में उलझाकर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले मतदाताओं का ध्यान भटकाने में लगी है।

अग्रवाल ने 500 और 1000 रुपए की नोटबंदी की वजह से निचले और मध्यम वर्ग के असुविधाओं को उजागर करते हुए पूछा, "कौन सा उद्योगपति, राजनेता, आईएएस/आईपीएस अधिकारी या आतंकवादियों का संरक्षक आज लाइनों में लगा है?"

उन्होंने जानना चाहा कि विदेश में बेहिसाब संपत्ति संचय करने वाले लोगों पर कदम क्यों नहीं उठाए जा रहे हैं। विजय माल्या के खिलाफ भी कार्रवाई नहीं की गई है।

संसद भवन के बाहर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव। साथ में है सासंद अक्षय यादव। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करेंगे। यह संभावना जताई जा रही है कि वह नोटबंदी के मुद्दे पर प्रधानमंत्री से बात कर सकते हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top