उत्तर प्रदेश में भाजपा की ‘सुनामी’, 2019 को भूल 2024 के आम चुनावों की तैयारी करे विपक्ष : उमर अब्दुल्ला

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   11 March 2017 12:48 PM GMT

उत्तर प्रदेश में भाजपा की ‘सुनामी’, 2019 को भूल 2024 के आम चुनावों की तैयारी करे विपक्ष : उमर अब्दुल्लाजम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला।

नई दिल्ली (भाषा)। नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने आज कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की ‘सुनामी' है ना कि एक छोटे तालाब में उठने वाली लहर। साथ ही उन्होंने विपक्ष को 2019 को भूलकर 2024 के आम चुनावों के लिए तैयारी शुरू करने की सलाह दी है।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उमर अब्दुल्ला ने कहा कि देशभर में कोई ऐसा नेता नहीं है जो मोदी का मुकाबला कर सकें और कोई ऐसी पार्टी नहीं है जो 2019 में भाजपा को चुनौती दे सके। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष को ‘केवल आलोचना करने के बजाय एक सकारात्मक विकल्प' के रूप में अपनी रणनीति बदलने की जरुरत है और अन्य राज्यों के नतीजे यह उम्मीद जगाते हैं कि भाजपा अपराजेय नहीं है।

उन्होंने ट्विटर पर कहा, ‘‘संक्षेप में देशभर में आज ऐसा कोई नेता नहीं है जो 2019 में मोदी और भाजपा का मुकाबला कर सकें। ऐसे में हमें 2019 को शायद भूल जाना चाहिए और 2024 की तैयारी शुुरू करनी चाहिए।''

अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा, ‘‘लगभग सभी विशेषज्ञों-विश्लेषकों ने उत्तर प्रदेश में इस लहर को कैसे छोड दिया? यह सुनामी है ना कि एक छोटे से तालाब में लहर है।''

उन्होंने कहा, ‘‘पंजाब, गोवा और मणिपुर से निश्चिततौर पर यह संकेत मिलेगा कि भाजपा अपराजेय नहीं है बल्कि आलोचना से सकारात्मक विकल्प की ओर रणनीति बदलने की जररत है. मैंने पहले भी कहा है और फिर कहूंगा कि मतदाताओं को एक वैकल्पिक एजेंडा देने की जररत है जो इस पर आधारित हो कि हम बेहतर करेंगे।''

अब्दुल्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री की आलोचना करने से ‘‘हमें कुछ हाथ नहीं लगेगा'' और मतदाताओं को यह बताने की जररत है कि उनके पास एक विकल्प मौजूद हैं जिसके पास एक स्पष्ट रोडमैप है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top