‘भतीजे’ अखिलेश से 15 मिनट चाहती हैं ‘बुआ’ उमा

‘भतीजे’ अखिलेश  से 15 मिनट चाहती हैं ‘बुआ’ उमाgaoconnection

 मथुरा (भाषा)। यमुना को प्रदूषणमुक्त करने के लक्ष्य से केंद्र सरकार द्वारा तैयार की गई कार्ययोजना को उत्तर प्रदेश में लागू करने के लिए ‘बुआ’ उमा भारती अपने ‘भतीजे’ प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से महज 15 मिनट का समय मिलने का इंतजार कर रही हैं। दरअसल उत्तर प्रदेश सरकार ने अभी तक इस कार्ययोजना के लिए अनापत्ति प्रमाणपत्र जारी नहीं किया है और इस कारण काम शुरु नहीं हो पा रहा है। केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती वृन्दावन स्थित ठाकुर बांकेबिहारी एवं कात्यायिनी देवी के दर्शन के लिए रविवार को यहां आयीं थी।

उन्होंने कहा,‘‘यमुना नदी की सफायी के लिए तैयार की गयी कार्ययोजना का प्रेजेंटेशन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को दिखाने के लिए मेरे मंत्रालय के अधिकारी तीन महीने से समय मिलने का इंतजार कर रहे हैं। यह बड़ी विडंबना है।’’ उमा ने कहा,‘‘मैं राजनीति के लिहाज से यह नहीं कह रही। गंगा-यमुना के मुद्दे पर मैं राजनीति नहीं करुंगी। मुझे तो पहले ही लोकसभा और राज्यसभा के सभी 790 सदस्यों ने इस मसले पर पूरा समर्थन देने का वादा किया है। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार से जो अपेक्षा थी, पूरी नहीं हुई। उल्टे यहां तो दिल को धक्का लगा।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी टीम जब सपा मुखिया मुलायम सिंह से मिली थी तो उन्होंने खुद कहा था कि कह देना उमा भारती से हम हर मुद्दे पर लड़ेंगे, लेकिन इस मुद्दे पर कोई मनभेद नहीं होगा। हम उनके साथ हैं। लेकिन अब उल्टा हो रहा है।’’ उन्होंने कहा,‘‘मैं तो वैसे भी मुलायम सिंह की छोटी लाडली बहन हूं। अखिलेश की बुआ हूं। वे इस मामले में राजनीति ना करें। पिछले सात दिनों से अधिकारी समय मांग रहे हैं। योजना का प्रारुप जल्दी देख कर अनापत्ति प्रमाणपत्र दे दें तो काम शुरु हो।’’

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.