ग्रामीणों को जल्द मिलेगी आई टेस्टिंग की सुविधा

ग्रामीणों को जल्द मिलेगी आई टेस्टिंग की सुविधाgaonconnection

बिधूना (औरैया)। ग्रामीणों को नेत्र चिकित्सा सुविधा प्रदान करने के लिये पूर्व मुख्यमंत्री और सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट 50 शैया के डॉ. राममनोहर लोहिया राष्ट्रीय नेत्र चिकित्सालय का निर्माण शुरू हो गया है।

पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने वर्ष 2004 में बिधूना में डा. राममनोहर लोहिया के नाम से नेत्र चिकित्सालय बनवाने की घोषणा की थी। लेकिन कुछ दिनों बाद सरकार बदल जाने से अस्पताल निर्माण एक दक तक लटका रहा। 2012 में सपा की सरकार बनने पर एक बार फिर नेत्र चिकित्सालय निर्माण की कवायद शुरू हुई।

मई 2012 में तत्कालीन सीएमओ डॉ. एनकेएस यादव ने नेत्र चिकित्सालय की फाइल चलाते हुये 13 जून 2012 को बिधूना को 50 शैया का नेत्र चिकित्सालय बनाये जाने का प्रस्ताव डीजी हेल्थ को भिजवाया इसके बाद सुस्त रफ्तार से फाइल आगे बढ़ती रही और वर्ष 2015 में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नेत्र चिकित्सालय को स्वीकृति दे दी।

इसके बाद कई महीने अस्पताल के लिये बजट स्वीकृत होने में लग गये और इस वर्ष जून में शासन ने धनराशि स्वीकृत कर कार्यदायी संस्था को बजट का 60 प्रतिशत धन भी आवंटित कर दिया।सीएमओ डॉ. एनकेएस यादव ने बताया, "कार्यदायी संस्था पैक्स्फेड द्वारा विधूना के पुराने महिला चिकित्सालय में बनने जा रहे 50 शैया डॉ. राममनोहर लोहिया राष्ट्रीय नेत्र चिकित्सालय का निर्माण शुरू कर दिया गया है। शासन ने पहले नेत्र चिकित्सालय का निर्माण पूरा कराने के लिये 31 दिसम्बर 2016 की डैडलाइन घोषित की थी। लेकिन धन स्वीकृत होने में कई महीने लग जाने के कारण अब निर्माण सस्था को एक वर्ष का समय दिया गया है।"

Tags:    India 
Share it
Top